August 8, 2022

Commonwealth Games 2022: बर्मिंघम में वेटलिफ्टरों का जलवा, एक ही दिन में भारत को दिलाए Gold समेत 4 मेडल

wp-header-logo-637.png

बर्मिंघम में खेले जा रहे कॉमनवेल्थ गेम्स (second day of the Commonwealth Games) के दूसरे दिन भारत को चार-चारकामयाबी हासिल हुई है। इस दिन भारत ने चार पदक अपने नाम किए और चारों पदक( won four (medals) उसे दिलाए वेटलिफ्टरों ने। शुरुआत की संकेत महादेव ने और फिर मीराबाई चानू, गुरुराजा से होते हुए बिंदियारानी देवी ने भारत की झोली में पदक डाला (India’s bag through Gururaja.)।
संकेत ने खोला खाता
सबसे पहले महाराष्ट्र के सांगली जिले के(India’s bag through Gururaja) रहने वाले संकेत महादेव सरगर ने मेन्स इवेंट के 55 किग्रा इवेंट में सिल्वर मेडल जीता(India’s bag through Gururaja)। संकेत सरगर ने दो राउंड के 6 अटेंप में अपनी पूरी ताकत झोंक दी और कुल 248 किग्रा वजन उठाते हुए यह सिल्वर अपने नाम कर लिया। दूसरे राउंड(India’s bag through Gururaja.) के आखिर दो अटेंप में संकेत चोटिल भी हुए थे। दूसरे अटेंप में संकेत ने 139 किग्रा भार उठाना (India’s bag through Gururaja) चाहा, लेकिन उठा नहीं सके। फिर मेडिकल टीम ने संकेत को देखा और तुरंत इलाज किया. इसके बाद संकेत ने तीसरा अटेंप भी( Sanket also took the third attempt)लिया, जो कामयाब नहीं रहा।
गुरू ने भी किया कमाल
संकेत के बाद मेडल जीतने की बारी गुरुराजा पुजारी की(Gururaja Pujari’s) थी और वह ब्रॉन्ज मेडल जीतकर उम्मीदों पर खरे उतरे। गुरुराजा पुजारी ने स्नैच में 118 का स्कोर किया, वहीं क्लीन एंड जर्क में 151 का स्कोर (winning the bronze medal) बनाया। यानी कि उन्होंने कुल 269 का स्कोर करते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया( winning the bronze medal)।
गोल्डकोस्ट कॉमनवेल्थ में भी गुरुराजा पुजारी ने सिल्वर मेडल जीता थ। तब गुरुराजा ने स्नैच में 111 का स्कोर किया, वहीं क्लीन एंड जर्क में 138 का स्कोर बनाया। यानी उस वक्त गुरुराजा (time Gururaja) ने कुल 249 किलो वजन उठाकर दूसरा स्थान हासिल करने में कामयाबी हासिल की थी।
उम्मीद पर खरी उतरी मीराबाई
इसके बाद महिला वर्ग के 49 किलो भारवर्ग में मीराबाई से स्वर्ण (gold medal was expected from Mirabai) पदक की उम्मीद थी और उन्होंने निराश कतई नहीं किया। टोक्यो ओलंपिक की रजत पदक विजेता मीराबाई चनू ने स्नैच में 88 किलो का वजन उठाया । वहीं क्लीन एंड जर्क में मीराबाई ने 113 किलो का अटेम्पट सफलतापूर्वक पूरा किया। मीराबाई चनू ने गोल्डकोस्ट में हुए 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। साथ ही मीराबाई 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों (gold medal was expected from Mirabai)में भी मीराबाई ने सिल्वर मेडल पर कब्जा किया था। अब उन्होंने बर्मिंघम ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतकर भारतवासियों को खुशियों की सौगात दी (Birmingham Olympics)है।
आखिर में बिंदियारानी का कमाल
आखरी देर रात बिंदिया रानी देवी ने वूमेन्स वेटलिफ्टिंग (Birmingham Olympics.)के 55 किलो भारवर्ग में भारत के लिए सिल्वर मेडल जीत लिया। बिंदिया रानी ने स्नैच में 86 का स्कोर(Birmingham Olympics) किया, वहीं क्लीन एंड जर्क में 116 का स्कोर बनाया। यानी कि उन्होंने कुल 202 का स्कोर करते हुए रजत पदक अपने नाम किया है। बताते चले कि ये बिंदियारानी का पहला कॉमनवेल्थ गेम्स (Birmingham Olympics)हैं और अपने पहले ही प्रयास में इस खिलाड़ी ने पदक अपनी झोली में डाल लिया है।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author