August 14, 2022

कोरोना में अनाथ हुए बच्चों को हर महीने मिलेंगे 4000, स्वास्थ्य का जिम्मा उठाएगा PM केयर्स फंड

wp-header-logo-532.png

news website
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि भारत ने कोविड-19  वैश्विक महामारी से निपटने के लिए अपनी क्षमताओं, वैज्ञानिकों, चिकित्सकों, युवाओं पर भरोसा दिखाया और दुनिया के लिए चिंता नहीं, बल्कि आशा की एक किरण बनकर उभरा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के नकारात्मक प्रभाव से उबर कर भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक बन गया है।
प्रधानमंत्री मोदी ने ‘पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रेन’ (Pm cares for children) के तहत बच्चों के लिए कई सुविधाएं शुरू करते हुए एक कार्यक्रम में यह बयान दिया। कार्यक्रम में मोदी ने स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए छात्रवृत्ति भी जारी की। बच्चों को योजना के तहत पासबुक और आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत स्वास्थ्य कार्ड भी दिए गए। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के नकारात्मक माहौल के दौरान भारत ने अपनी क्षमताओं पर भरोसा रखा।
उन्होंने कहा कि हमने अपने वैज्ञानिकों, चिकित्सकों, युवाओं पर भरोसा दिखाया और हमारा देश दुनिया के लिए चिंता नहीं, बल्कि आशा की एक किरण बनकर उभरा। हम कोई समस्या नहीं बल्कि समाधान देने वाले बने। प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण अनाथ हुए बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि ‘पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रेन’ यह दर्शाता है कि हर नागरिक उनके साथ खड़ा है।
महामारी के दौरान अपने अभिभावकों को गंवा चुके बच्चों को हर महीने 4000 रुपए दिए जाएंगे
मोदी ने कहा कि अगर किसी को पेशेवर पाठ्यक्रम या उच्च शिक्षा के लिए ‘एजुकेशन लोन’ (शिक्षा ऋण) चाहिए तो, ‘पीएम केयर्स’ उसमें भी मदद करेगा। उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान अपने अभिभावकों को गंवा चुके बच्चों को हर महीने 4000 रुपए दिए जाएंगे, जिससे उनकी दैनिक जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलेगी। ‘पीएम केयर्स’ कोष के बारे में उन्होंने कहा कि इस कोष ने कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान अस्पतालों को तैयार करने, वेंटिलेटर खरीदने, ऑक्सीजन संयंत्र लगाने में भी काफी मदद की।
भारत ने दुनियाभर में दवाइयां और टीके भेजे
उन्होंने कहा कि इसके जरिए कई लोगों की जान बचाई जा सकती है और कई परिवारों का भविष्य बचाया जा सकता है। अपने माता-पिता खो चुके बच्चों का मनोबल बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि निराशा के माहौल में भी ‘‘अगर हम खुद पर विश्वास रखें, तो आशा की एक किरण अवश्य दिखाई देती है।’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत ने दुनियाभर में दवाइयां और टीके भेजे. मोदी ने कहा, ‘‘ इतने बड़े देश में भी, हमने सभी नागरिकों को टीके उपलब्ध कराएं।’’
अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की करीब 200 करोड़ खुराक लोगों को दी जा चुकी
उन्होंने कहा कि हमने अपने देशवासियों को टीके उपलब्ध कराए और अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की करीब 200 करोड़ खुराक लोगों को दी जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि भारत ने पिछले आठ वर्ष में जो मुकाम हासिल किया है, उसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज, विश्व में भारत का गौरव बढ़ा है, वैश्विक मंचों पर हमारे भारत की ताकत बढ़ी है। मुझे खुशी है कि युवा शक्ति भारत की इस यात्रा का नेतृत्व कर रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश भ्रष्टाचार और क्षेत्रीय भेदभाव के दुष्चक्र से बाहर निकल रहा है, जिसमें वह 2014 से पहले फंस हुआ था।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author