November 29, 2022

Knowledge News : जानिए आखिर ट्रेन में लगे पंखे क्यों नहीं होते चोरी, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

wp-header-logo-599.png

हमारे देश में हर रोज न जाने कितने लोग ट्रेन से सफर करते हैं। बहुत से लोगों के लिए ये किसी लाइफलाइन से कम नहीं है। दूर-दूर तक के सफर ट्रेन के जरिए आराम से किए जा सकते हैं। यहां तक कि आजकल तो ट्रेनों (Train) में सफर करना और भी आसान हो गया है। ऑनलाइन बुकिंग से लेकर AC, खाना और यहां तक की सिक्योरिटी भी मिलने लगी है। लेकिन पहले ऐसे नहीं होता था। शायद आपने सुना होगा कि पहले के समय में ट्रेन में बहुत चोरी हुआ करती थी। चोर ट्रेन में से पंखे, बल्ब जैसी बहुत सी चीजें चुरा कर ले जाते थे। लेकिन अब ऐसा नहीं है, क्योंकि अब अगर कोई ऐसा करता है तो उसे लंबे समय तक के लिए जेल भी जाना पड़ सकता है। पहले के समय में ट्रेनों से पंखे चोरी होना आम बात थी। इसलिए फिर भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने इससे निपटने के लिए एक ऐसा तरीका निकाला। जिसके बाद चोर चाहकर भी ट्रेन के पंखे की चोरी नहीं कर सकते। तो चलिए जानते हैं कि आखिर वो कौन सा तरीका है।
बनाया ऐसा पंखा जिसका घर में नहीं हो सकता इस्तेमाल
भारतीय रेलवे (Indian) ने चोरी के मामलों को बढ़ता हुआ देखकर नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया। इसके बाद इंजीनियर्स ने पंखों को इस तरह डिजाइन किया कि उन्हें आम घरों में नहीं चलाया जा सकता। इनका इस्तेमाल सिर्फ ट्रेनों में ही किया जा सकता हैं और पैसेंजर बोगी में हवा ले सकते हैं। अगर कोई इन्हें चोरी करके बाहर इस्तेमाल करना चाहते हैं तो यह संभव नहीं है। अब आप सोचेंगे कि आखिर यह कैसे संभव हो सकता है। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि इसके पीछे क्या है वजह है। कुछ लोगों का कहना हैं कि ट्रेन के बाहर ये पंखे सिर्फ कबाड़ हैं।
ट्रेन के पंखे बाहर न चलने की वजह
दरअसल, घरों में दो तरह की बिजली का इस्तेमाल होता हैं। पहला एसी (अल्टरनेटिव करेंट) और दूसरा डीसी (डायरेक्ट करेंट), अगर घर में एसी यानि अल्टरनेटिव करेंट बिजली का इस्तेमाल किया जा रहा है तो अधिकतम पावर 220 वोल्ट होगा। वहीं अगर डीसी यानि डायरेक्ट करेंट का इस्तेमाल किया जा रहा है तो पावर 5, 12 या 24 वोल्ट होगा। जबकि ट्रेन में लगने वाले पंखों को 110 वोल्ट का बनाया जाता है। जो सिर्फ DC से चलता है, घरों में इस्तेमाल होने वाली DC बिजली 5,12 या 24 वोल्ट से ज्यादा नहीं होती, ऐसे में आप इन पंखों को अपने घरों में इस्तेमाल नहीं कर सकते। इसके साथ ही अगर कोई अब इन पंखों को ट्रेन से चुराता है तो उसे 7 साल तक की कैद और जुर्माना भी लगाया जा सकता है। यहां तक कि ऐसे मामलों में जल्दी जमानत भी नहीं होती।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author