November 28, 2022

36th National Games: आज से बजेगा राष्ट्रीय खेलों का बिगुल, एक क्लिक कर पढ़ें टूर्नामेंट के बारे में सब कुछ

wp-header-logo-586.png

खेल: जैसे ही आप अहमदाबाद में कदम रखते हैं, बड़े-बड़े होर्डिंग आपका ध्यान खींच लेते हैं। ये आकर्षक होर्डिंग्स गुजरात में हो रहे राष्ट्रीय खेल आयोजनों के (national sporting events) हैं। यह पहली बार है कि गुजरात में राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इस टूर्नामेंट का आधिकारिक उद्घाटन आज (गुरुवार) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। अगले 13 दिनों तक खिलाड़ी इस टूर्नामेंट में अपना हुनर ​​दिखाने वाले हैं। बता दें कि 7 वर्षों के बाद इन खेलों का आयोजन किया जा रहा है। इस बार नेशनल गेम्स में 28 राज्यों और आठ केंद्र शासित प्रदेशों और सेवाओं के करीब 7,000 एथलीट 36 खेल विधाओं में भाग लेंगे।
टूर्नामेंट पहले गोवा में होना था
राष्ट्रीय प्रतियोगिता 2015 के बाद पहली बार आयोजित की जा रही है। विभिन्न कारणों से प्रतियोगिता स्थगित कर दी (various reasons) गई थी। यह टूर्नामेंट जो पहले गोवा में होना था अब गुजरात में हो रहा है। अहमदाबाद, गांधीनगर, सूरत, राजकोट, बड़ौदा, भावनगर शहर राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए तैयार हैं। अधिकांश प्रतियोगिताएं अहमदाबाद, गांधीनगर में होंगी। इसलिए इस इलाके के चौराहों पर बड़े-बड़े होर्डिंग लगा दिए गए हैं। शहर का सौंदर्यीकरण किया गया है, बड़े चौराहों को रोशन (illuminated) किया गया है, मैदानों को सजाया गया है, पुलिस बल भी बढ़ाया गया है।
वैसे तो शहर में नवरात्रि (Navratri) का कोहराम मचा हुआ है, लेकिन इस प्रतियोगिता को प्रचारित करने के लिए इसका फायदा भी उठाया गया है। प्रतियोगिता का प्रचार उन मैदानों पर भी किया गया है जहां खेल आयोजित किए जा रहे हैं। टूर्नामेंट का नारा ‘खेल के माध्यम से एकता का जश्न मनाएं’, शहर में हर जगह देखा जाता है। हालांकि यहां बहुत से लोगों को यह नहीं पता कि राष्ट्रीय प्रतियोगिता क्या है, नागरिकों को अब यह विचार आ रहा है कि खेल उनके शहर में होने जा रहे हैं। इसमें ब्रांडिंग की बड़ी भूमिका (big role) होती है।
पीएम मोदी दिखाने वाले है हरी झंडी
अनुभवी खिलाड़ियों (experienced players) के साथ-साथ युवा खिलाड़ियों के लिए राष्ट्रीय प्रतियोगिता भी होती है। यह देश के लिए एक मिनी ओलंपिक है। सात साल बाद राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताएं हो रही हैं। इसलिए विभिन्न स्टेडियमों में अभ्यास करने वाले खिलाड़ी खुश हैं। अब उनके पास यह दिखाने का मौका है कि देश में सबसे अच्छा कौन है।इस टूर्नामेंट को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हरी झंडी दिखाएंगे। उद्घाटन समारोह नरेंद्र मोदी स्टेडियम में होगा। इसके लिए मोदी स्टेडियम में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। रंगारंग कार्यक्रम को लेकर हर कोई उत्सुक (colorful program) है।
क्या हैं राष्ट्रीय खेलों के नियम
नियमों के मुताबिक राष्ट्रीय खेल हर दो साल में होने चाहिए। ये उन वर्षों में नहीं होने चाहिए जिसमें ओलंपिक खेल और एशियाई खेल निर्धारित होते हैं। हालांकि हाल के दिनों में इसका अभ्यास नहीं किया गया है। वहीं अहम बात यह भी है कि राष्ट्रीय खेलों का पिछला संस्करण 2015 में केरल में हुआ था। इसके बाद साल 2016 में गोवा में इनका आयोजन होना था लेकिन लॉजिस्टिक मुद्दों के कारण यह आयोजन स्थगित होता रहा। वहीं 2019 में भारतीय ओलंपिक संघ ने खेलों के आयोजन में विफल रहने के लिए गोवा पर 10 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाने की भी धमकी दी थी। इसके बाद साल 2020 में COVID-19 महामारी (COVID-19 pandemic) के कारण खेलों को एक बार फिर अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया थ।
प्रतियोगिता का दायरा
भाग लेने वाले खिलाड़ी: 8000
खेल का प्रकार: 36
राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की भागीदारी: 36
खिलाड़ी, कोच, तकनीकी अधिकारी, सहायक वर्ग: 15000
दृष्टिकोण
– पहला राष्ट्रीय टूर्नामेंट 1924 में कराची में आयोजित किया गया था।
– सात साल बाद राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता हो रही है। इससे पहले 2015 में राष्ट्रीय खेलों का आयोजन केरल में हुआ था।
– 36वें राष्ट्रीय खेलों का समापन 12 अक्टूबर को होगा।
पिछले कुछ टूर्नामेंटों में महाराष्ट्र का प्रदर्शन
2015 में रैंक 4- गोल्ड-30, सिल्वर-43, ब्रॉन्ज-50, टोटल-123 मेडल
2011 में नंबर 4- गोल्ड-41, सिल्वर-44, ब्रॉन्ज-47, टोटल- 132 मेडल
2007 में नंबर 8 – गोल्ड-25, सिल्वर -28, ब्रॉन्ज -44, टोटल – 97 मेडल
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author