August 14, 2022

Commonwealth Games 2022: बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन को लेकर भारतीय दल के प्रमुख हुए नाखुश, जानिए क्या है पूरा मामला

wp-header-logo-604.png

भारतीय महिला मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन (female boxer Lovlina Borgohain) इस समय काफी चर्चा में हैं। कॉमनवेल्थ गेम्स (start of the Commonwealth Games) की शुरुआत से चंद दिनों पहले लवलीना ने आरोप लगाया था कि उनका मानसिक रूप (mentally harassed) से परेशान किया जा रहा है और उनकी निजी कोच संध्या गुरुंग (Sandhya Gurung) को खेल गांव में आने की अनुमति नहीं दी जा रही है। बाद में संध्या को बाद में खेल गांव का मान्यता (Lovlina attended) पत्र दिया गया था। इसी कड़ी में लवलीना गुरुवार को एलेक्सजेंडर स्टेडियम में (ceremony at Alexander Stadium ) ओपनिंग सेरेमनी में शामिल हुईं थी. हालांकि उन्होंने सेरेमनी को बीच में ही छोड़कर वापस जाने का फैसला किया जो कि अब उन्हें भारी पड़ता दिख (overshadowing him)रहा है
लवलीना ने बताया क्यों बीच में छोड़ी ओपनिंग सेरेमनी
उद्घाटन समारोह गुरुवार रात को लगभग दो घंटे तक (opening ceremony) चला था। लवलीना ने भारतीय मुक्केबाजी दल के एक अन्य सदस्य (another member) मुहम्मद हुसामुद्दीन( Muhammad Hussamuddin) के साथ अलेक्जेंडर स्टेडियम से खेल गांव के लिए जल्दी निकलने का(left the ceremony) फैसला किया। मीडिया रिपोर्ट्स के अमुसार लवलीना से जब पूछा गया कि उन्होंने समारोह को बीच (Lovlina) में क्यों छोड़ा तो उन्होंने कहा ‘हम सुबह अभ्यास करना चाहते थे क्योंकि इसके एक दिन बाद हमारा मुकाबला है। समारोह चल रहा था और हमने तब निकलने का फैसला किया (decided to leave)। हमने टैक्सी उपलब्ध कराने को (provide taxi) कहा, लेकिन हमें बताया गया कि टैक्सी उपलब्ध नहीं है।’
चूंकि समारोह अभी चल रहा (ceremony was still going) था और ये दोनों ही मुक्केबाज टैक्सी( both the boxers)नहीं कर पाए। ऐसे में उनके पास खेल गांव पहुंचने का कोई विकल्प नहीं( National Exhibition Center) था। बाद में उन्होंने राष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र से खेल गांव जाने वाली पहली बस पकड़ी (organizers) । भारतीय दल को आयोजकों ने तीन कार उपलब्ध कराई थी लेकिन उनके ड्राइवर मौजूद नहीं थे क्योंकि भारतीय खिलाड़ी(Indian players) और अधिकारी बसों से उद्घाटन (opening ceremony) समारोह में पहुंचे थे।
भारतीय दल के प्रमुख इस बात से नाखुश
मिली जानकारी के अनुसार बता दें कि भारतीय दल के प्रमुख राजेश भंडारी इस पूरे घटनाक्रम से खुश (Rajesh Bhandari) नहीं थे। भंडारी ने (Bhandari said) कहा, ‘समारोह के बीच में ही मुझे पता चला कि वह एक अन्य मुक्केबाज के साथ वापस लौट गई (returned with another boxer) है। हम सभी बसों में आए थे और तब टैक्सी का विकल्प उपलब्ध नहीं (taxi option was not available)था। अगर उन्हें जल्द ही लौटना था तो फिर उन्हें समारोह में नहीं आना चाहिए(eremony) था। मैं इस मामले में मुक्केबाजी टीम से बात करूंगा।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author