August 15, 2022

उदयपुर में युवक की हत्या के बाद 7 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू, दो आरोपी गिरफ्तार, पूरे प्रदेश में इंटरनेट बंद

wp-header-logo-374.png

news website
उदयपुर. उदयपुर शहर के धानमंडी थाना क्षेत्र में दो बदमाशों ने एक युवक की धारदार हथियार से हत्या कर दी। युवक पेशे से दर्जी था। बताया गया है कि 10 दिन पहले युवक ने भाजपा की निलंबित राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली थी। इसके बाद से लगातार उसे धमकियां मिल रही थीं। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। ये दोनों उदयपुर के सूरजपोल क्षेत्र के निवासी हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार क्षेत्र के मालदार स्ट्रीट में रहने वाले दर्जी का काम कर रहे कन्हैयालाल टेलर पर दो बदमाशों ने तलवार से हमला कर दिया। हमले में कन्हैयालाल ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। दिन में करीब ढाई बजे दोनों बदमाश बाइक पर सवार होकर आए थे। कपड़े का नाप देने का बहाना बनाकर दुकान में घुसे। कन्हैयालाल कुछ समझ पाता, तब तक बदमाशों ने हमला बोल दिया। उन पर तलवार से कई वार किए। हमलावरों ने इस घटना का वीडियो भी बनाया और सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया।
इस घटना के बाद शहर में तनाव हो गया। उदयपुर के 7 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया है। इसमें धानमंडी, घंटाघर, हाथीपोल, अंबामाता, सूरजपोल, भुपालपुरा और सवीना थाना क्षेत्र शामिल हैं। साथ ही, धारा 144 लागू कर दी गई है। संभागीय आयुक्त राजेन्द्र कुमार भट्ट ने उदयपुर शहर क्षेत्र में शाम साढे पांच बजे के बाद अगले 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद करने के आदेश जारी किए। सूचना पर धानमंडी समेत घंटाघर और सूरजपोल थाने के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। टीम ने मौके से सबूत जुटाए।
पुलिस की 10 टीमों ने पीछा कर शाम को दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। वारदात के विरोध में उदयपुर के हाथीपोल, घंटाघर, अश्विनी बाजार, देहली गेट और मालदास स्ट्रीट का बाजार बंद हो गए। एनआई की पांच सदस्यीय टीम आरोपियों से पूछताछ के लिए दिल्ली से उदयपुर रवाना हो गई। उदयपुर घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया। एटीएस-एसओजी के एडीजी अशोक राठौड़, एटीएस के आईजी प्रफुल्ल कुमार तथा एक एसपी व एक एडिशनल एसपी को शामिल किया है।
अपराधियों के खिलाफ होगी कठोर कार्रवाई: गहलोत
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उदयपुर में एक युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करते हुए कहा है कि इस मामले में अपराधियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी। गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि इस घटना में शामिल सभी अपराधियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी और पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी।उन्होंने सभी पक्षों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।
उदयपुर में हुई जघन्य घटना से हूं स्तब्ध: राहुल
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उदयपुर में निर्दोष युवक की गला रेत कर हत्या की घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि वह इससे स्तब्ध हैं और दोषियों को सख्त सजा दी जानी चाहिए। गांधी ने ट्वीट कर यह बात कही। उन्होंने कहा कि इस हैवानियत से आतंक फैलाने वालों को तुरंत सख्त सजा मिले। हम सभी को साथ मिलकर नफरत को हराना है। सभी से अपील है, शांति बनाए रखें।
भाजपा ने निंदा की
भाजपा ने उदयपुर में एक दर्जी की उसकी ही दुकान के अंदर हत्या की मंगलवार की घटना पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए इस घटना में शामिल दरिंदों को फांसी की सजा की मांग की है। भाजपा ने आरोप लगाया है कि राजस्थान में जगल राज है और वहां वोट बैंक की राजनीति के चलते जिहादी सोच पर कोई लगाम नहीं लगाई गई है। प्रवक्ता गौरव भाटिया ने ट्वीट कर यह बात कही। उन्होंने ‘दरिंदों’ को समयबद्ध तरीके से फांसी की सजा दिए जाने की मांग करते हुए कहा उदयपुर में एक दरजी कन्हैया की गर्दन काटकर हत्या कर दी गई।
24 घंटे बंद रहेगा इंटरनेट, धारा 144 लागू
मुख्य सचिव उषा शर्मा ने मंगलवार शाम उच्च स्तरीय बैठक लेकर सभी संभागीय आयुक्तों, पुलिस महानिरीक्षकों एवं जिला कलक्टरों को प्रदेशभर में विशेष सतर्कता और चौकसी बरतने के निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव ने कानून-व्यवस्था बनाए रखने की दृष्टि से प्रदेशभर में आगामी 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद किए जाने, सभी जिलों में एक माह तक धारा 144 लागू कर चार लोगों से अधिक के एकत्रित होने पर रोक लगाने, पुलिस एवं प्रशासन के सभी अधिकारियों के अवकाश निरस्त करने, शांति समिति की बैठकें आयोजित करने और उदयपुर जिले में आवश्यकतानुसार कर्फ्यू लगाए जाने के निर्देश दिए हैं।
मुख्य सचिव ने सभी संभागीय आयुक्तों को निर्देश दिए हैं कि उदयपुर की घटना के वीडियो के मोबाइल एवं अन्य माध्यमों से प्रसार पर सख्ती से रोक लगाई जाए। साथ ही वीडियो को प्रसारित करने वाले लोगों पर नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। धर्म गुरूओं से अपील की जाए कि वे साम्प्रदायिक सौहार्द एवं शांति बनाए रखने में सहयोग करें।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author