February 7, 2023

Knowledge News : इंद्रधनुष में क्यों नहीं होता काला और ग्रे कलर, जानिए इसके पीछे का विज्ञान

wp-header-logo-421.png

इंद्रधनुष (Rainbow) तो लगभग सबने देखा होगा और ये भी बहुत अच्छे से जानते होंगे कि उसमें सात रंग होते हैं। ये ज्यादातर तब बनते हैं, जब बारिश के बाद धूप निकलती है। हवा में मौजूद पानी के कणों से जब रोशनी टकराती है, तब जाकर इंद्रधनुष बनता है। क्या आपने कभी ये नोटिस किया है कि पानी की बूंदें हो या फिर कोहरा, इंद्रधनुष में कभी काला, भूरा, ग्रे या फिर सफेद रंग नहीं होता। आखिर ऐसा क्यों होता है। अगर आप भी नहीं जानते तो चलिए हम आपको आज अपने इस आर्टिकल में बताते हैं।
सूरज से जो रोशनी आती है, वो सफेद रंग की दिखती है। हम आपको बता दें कि यह रोशनी कई रंगों से मिलकर बनती है। जब ये रोशनी पानी की बूंदों से होकर गुजरती है, तो प्रिज्म इफेक्ट (Prism Effect) के कारण हमें सात रंग दिखाई देते हैं। इंद्रधनुष में मौजूद रंगों का भी अलग-अलग वेवलेंथ (Wavelength) होता है। इसे आप आसानी से इस तरह समझ सकते हैं। रोशनी लहरों की तरह बहती है, जैसे समुद्र में लहरें उठती और गिरती हैं। इन लहरों की अपनी लंबाई और चौड़ाई होती है, इसे वेवलेंथ कहते हैं। वहीं, उन लहरों को विजिबल स्पेक्ट्रम (Visible Spectrum) कहते हैं।
इस हिसाब से इंद्रधनुष में सबसे छोटा वेवलेंथ वॉयलेट रंग (Violet) का होता है, जबकि लाल कलर का सबसे ज्यादा होता है। फिर जब सफेद रंग की रोशनी पानी की बूंदों से टकराती है, तब वह रिफ्रेक्शन (Refraction) करती है। इसका मतलब सफेद रंग की रोशनी की लहरें सात रंगों में अलग-अलग हो जाती हैं। इसके साथ ही इनकी दिशा भी बदल जाती हैं। हर रोशनी हल्के-हल्के मात्रा में रिफ्रेक्ट करती है।
इंद्रधनुष में होते हैं कई और रंग
जब बहुत सारी रोशनी बहुत सारी बूंदों से रिफ्रेक्ट करती है, तब इंद्रधनुष बनता है। इसलिए हमें उसके सिर्फ सात रंग दिखते हैं। ये रंग हैं- लाल, नारंगी, पीला, हरा, नीला, इंडिगो और वॉयलेट। लेकिन, बता दें कि ये पूरी तरह से सच नहीं है। ऐसा कहा जाता है कि इंद्रधनुष में कई रंगों का समावेश होता है। हालांकि, ये बता पाना मुश्किल है कि कौन-सा रंग कब शुरु होता है और कब खत्म। जैसे नीला रंग और हरा रंग मिलकर टरक्वाइस (Turquoise) रंग बनाते हैं। लेकिन, हमें यह रंग बहुत बारीकी से देखने पर दिखेगा वरना नहीं दिखता।
इसलिए नहीं दिखता काला-सफेद और ग्रे रंग
अब हम आपको ऐसे दो रंग के बारे में बताते हैं, जो आपको इंद्रधनुष में कभी नहीं देखने को मिलेंगे। वो है काला (Black) और सफेद (White) रंग। ब्लैक यानी काला रंग इसका मतलब है रंगों का न होना, यानी जहां पर रोशनी एकदम ही न हो क्योंकि अगर रोशनी होगी तो इंद्रधनुष बनेगा और उसमें रंग होंगे। लेकिन, काला रंग नहीं हो सकता। ये हम सब जानते हैं कि अंधेरे में कभी इंद्रधनुष नहीं बनता। दूसरा सफेद रंग इसलिए नहीं दिखता क्योंकि उसमें सभी रंगों का समावेश होता है। मतलब विजिबल स्पेक्ट्रम में जब सभी रंग मिल जाते हैं। तब वह सफेद कहलाता है। अब हम आपको बताते हैं कि इंद्रधनुष में ग्रे रंग क्यों नहीं दिखता। इसका कारण ये है कि ग्रे रंग ब्लैक और वाइट के मिश्रण से बनता है। इसलिए जब ब्लैक और वाइट ही नहीं दिख रहे तो ग्रे कैसे दिखेगा।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author