January 31, 2023

सावधान! कहीं आप भी बुखार होने के तुरंत बाद तो नहीं लेते गोली? जानिए बिना दवा के कैसे करें बचाव

wp-header-logo-425.png

Do Not Take Pills Immediately After Fever: मौसम के बदलते ही कई लोग खांसी, जुकाम और बुखार जैसी बीमारियों की चपेट में आ ही जाते हैं। सर्दियों में थकान महसूस होकर बुखार हो जाना बहुत आम सी बात है। इस समस्या से निपटने के लिए सबसे पहले हम बुखार कम करने की गोली लेते हैं। हालांकि, स्वास्थ्य विशेषज्ञ इस बात की खिलाफत करते आए हैं। उनका मानना है कि बुखार की दवा लेना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। डॉक्टरों का कहना है कि ज्यादातर लोगों को बुखार होने की वजह पता भी नहीं होती है और बिना सोचे-समझे वो डॉक्टर बनकर खुद ही अपना इलाज करने लगते हैं, ऐसा करने से आप अपने शरीर को बहुत नुकसान पहुंचा सकते हैं।
जानिए बुखार क्या है?
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबकि बुखार शरीर के ओवरऑल प्रोसेस की तरह होता है। यह तब होता है, जब आपके शरीर में कोई वायरस प्रवेश करता है और आपका इम्युनिटी सिस्टम उससे लड़ रहा होता है। ज्यादातर बच्चों और वयस्कों के लिए बुखार गंभीर हो सकता है, लेकिन आमतौर पर यह चिंता का कारण नहीं होता है। जैसे ये आता है, वैसे ही कुछ दिनों के अंदर चला भी जाता है और डॉक्टरों का कहना है कि अगर आपको बुखार के कारण कोई गंभीर समस्या नहीं हो रही है तो आपको दवाओं के सेवन से बचने की कोशिश करनी चाहिए।
जानिए शरीर का नॉर्मल टेम्परेचर कितना होता है?
विशेषज्ञों के मुताबिक दिन के अलग-अलग समय में शरीर का तापमान एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में अलग होता है। औसत तापमान 98.6 F या 37 C होता है। मुंह के थर्मामीटर का उपयोग करके लिया गया तापमान 100 F या 37.8 C या इससे अधिक होता है, जिसे आमतौर पर बुखार माना जाता है।
बुखार के कारण के आधार पर दिखने वाले लक्षण:-
ठंड लगना और कंपकंपी
सिरदर्द
मांसपेशी में दर्द
भूख में कमी
पसीना आना
चिड़चिड़ापन
डिहाइड्रेशन
कमजोरी
दवाइयों के होते हैं साइड इफेक्ट्स
डॉक्टरों का कहना है कि ऐसी कोई दवा नहीं है, जिसका कोई साइड इफेक्ट न हो। बुखार के लिए सबसे आम नुस्खा पेरासिटामोल लीवर के लिए हानिकारक साबित हो सकती है। डॉक्टर की सलाह के बिना बुखार में पेरासिटामोल का ज्यादा सेवन आपके लीवर फेल का कारण बन सकता है। इसके अलावा, डॉक्टरों को लगता है कि बहुत से लोग बिना डॉक्टर से पूछे अपने आप एंटीबायोटिक्स ले लेते हैं, उन्हें ये पता होना चाहिए की एंटीबायोटिक्स केवल बैक्टीरिया के संक्रमण में प्रभावी होते हैं और ज्यादातर बुखार वायरस के कारण होता है। वायरस से बचाव के लिए ऐसी कई चीजें हैं, जो आपके लिए मददगार साबित होती हैं।
खूब सारे तरल पदार्थ पिएं
डॉक्टरों का कहना है कि जब बुखार के कारण शरीर का तापमान बढ़ जाता है, तो इससे शरीर सामान्य से ज्यादा गर्म हो जाता है, जिससे पसीना आता है। इससे शरीर में तरल पदार्थों का नुकसान होता है, जो डिहाइड्रेशन का कारण बन सकता है। इसलिए बुखार होने पर खोए हुए तरल पदार्थों की भरपाई करने के लिए ज्यादा से ज्यादा लिक्विड पीने की कोशिश करें।
ये चीजी पूरी कर सकती हैं लिक्विड की कमी
फ्रूट जूस

सूप
डिकैफ़िनेटेड चाय
जितना हो सके आराम करें
वायरल बुखार इस बात का संकेत है कि आपका शरीर संक्रमण से लड़ने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है और इसलिए जितना हो सके आराम करना जरूरी है। सभी शारीरिक गतिविधियों से बचने और कम से कम 8-9 घंटे सोने की कोशिश करें।
बुखार से बचने के लिए अपने शरीर को ठंडा रखें:
गुनगुने पानी से नहाएं
हल्के कपड़े पहनें
ठंड लगने पर कंबल न लें
खूब ठंडा या रूम टेम्प्रेचर पानी पिएं
आइसक्रीम खाएं
हवा के लिए पंखे का इस्तेमाल करें।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author