November 27, 2022

मौसम में बदलाव के साथ दबे पांव आ रही बीमारियां, सर्दी में ऐसे रखें अपने स्वास्थ्य का ध्यान, नहीं पड़ेंगे बीमार

wp-header-logo-367.png

प्रतीकात्मक तस्वीर 
इस बार अक्टूबर के अंतिम सप्ताह के साथ ही गुलाबी सर्दी ने दस्तक दे दी है। सुबह और रात्रि में ठंड बढने लगी है। हालांकि दिन के समय धूप के चलते मौसम सुहावना होता है लेकिन देर सायं व सुबह के समय तापमान कम होने के कारण ठंड महसूस होने लगी है। खान-पान को लेकर सर्दी का मौसम बहुत अच्छा माना जाता है लेकिन साथ में बीमारियां भी लाता है। सर्दी लगने से खांसी-जुकाम-बुखार, निमोनिया, त्वचा और बालों में रुखापन, जोड़ों में दर्द, सिर दर्द की बीमारियां आम समस्याएं हैं। उधर, डेंगू बुखार भी तेजी से पैर पसार रहा है।
कैथल के नागरिक अस्पताल के सिविल सर्जन डा. अशोक कुमार ने बताया कि सर्दी से होने वाली बीमारियाें से बचाव किया जाए तो इलाज की बहुत कम जरूरत पड़ेगी। मौसम बदलने के साथ ही मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। मौसम के साथ सबसे अधिक भीड़ त्वचा रोग ओपीडी में रहती है। नेत्र रोग ओपीडी में मरीजों की संख्या एकाएक बढ़ने लगी है। बेहतर होगा कि हर आयु वर्ग के लोग स्वयं को सर्दी से बचाकर रखें और स्वस्थ रहें। यह अपने लिए ही नहीं बल्कि परिवार के अन्य सदस्यों को बीमारी से बचाने के लिए भी जरूरी है।
यूं रखें ध्यान

आंखों में दिक्कत : इन दिनों दीपावली पर की गई आतिशबाजी के कारण एयर क्वालिटी इंडेक्स बढ़ा हुआ है। ऐसे में इसका असर आंखों पर अधिक होता है। आंखों का लाल होना, दोनों आंखों से आंसू आना, खुजली होना, आंखों में किरकिराहट महसूस होना सर्दी के मौसम की मुख्य समस्या हैं। आंखों को ठंडी हवा, धुंध और प्रदूषण बचाने के लिए अच्छी क्वालिटी का चश्मा पहनें।
बालों का रुखापन : सिर में रूसी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इससे बचना है तो ज्यादा गरम पानी से स्नान न करें। बादाम, आंवला, सरसों या नारियल के तेल से सिर की मालिश करें। अच्छे शैंपू से बालों को धोएं।
बुखार : सर्दी के मौसम में बुखार होना सामान्य है। सर्दी से बचाव के लिए गर्म कपड़े पहनें। दोपहिया चालक गर्म कपड़ों के साथ हेलमेट और दस्ताने जरूर पहनें। भोजन से पहले साबुन से हाथ जरूर धोएं। ताजा व गर्म भोजन लें।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author