August 8, 2022

Health Tips: ये वार्निंग साइन दिखें तो भूलकर भी ना करें इग्नोर!, ब्रेन ट्यूमर की हो सकती है शुरुआत

wp-header-logo-563.png

आजकल बढ़ते स्ट्रेस (Stress) और बिगड़ते लाइफस्टाइल (Lifestyle) के कारण लोगों के सिर में दर्द (Headache) रहता ही है, इस अक्सर होने वाले दर्द के इलाज के लिए लोग डॉक्टर के पास नहीं जाते हैं और पेनकिलर आदि दवाइयों से काम चला लेते हैं। लेकिन क्या आपको पता है आजकल ब्रेन ट्यूमर (Brain Tumor) की समस्या कितनी बढ़ती जा रही है? सिरदर्द, चक्कर आने जैसी मामूली समस्याएं भी परेशानी का सबब बनती जा रही हैं। ब्रेन ट्यूमर दिमाग की एक बहुत ही गंभीर और बढ़ जाने पर जानलेवा हो जाने वाली बीमारी है। इस बीमारी में ब्रेन सेल्स अचानक बढ़ने लगते हैं और जमा होकर ट्यूमर का रूप ले लेते हैं।
जानिए कब जानलेवा हो सकता है ब्रेन ट्यूमर
बता दें कि ब्रेन ट्यूमर कई तरह के होते हैं, कुछ में कैंसर का खतरा नहीं होता है इस कारण इन्हे माइल्ड ट्यूमर कहते हैं। वहीं कुछ ट्यूमर ऐसे भी होते हैं जिनसे कैंसर होने का खतरा रहता है, यही कारण है कि इन्हें ज्यादा खतरनाक और जानलेवा माना जाता है। यह बीमारी ज्यादातर जेनेटिक सिंड्रोम या हानिकारक रेडिएशन के कारण होती है, ब्रेन ट्यूमर के शुरूआती लक्षणों को समझकर इसका इलाज करना बहुत ही ज्यादा जरूरी है। अगर इसका समय पर इलाज ना किया जाए तो यह बढ़कर कैंसर का रूप ले लेता है। तो आइए किन लक्षणों से आपको सावधान रहना है और ब्रेन ट्यूमर के वार्निंग साइन क्या है?
जानिए क्या है ब्रेन ट्यूमर के वार्निंग साइन
ब्रेन ट्यूमर के वार्निंग साइन (Brain Tumor Warning Sign) उसकी लोकेशन की वह आपके शरीर में किस जगह पर है और उसके बढ़ने की रफ्तार पर निर्भर करता है। इस बीमारी के कुछ वार्निंग साइन तो बहुत ही आम से हैं जैसे कि सिर में दर्द होना, लेकिन धीरे-धीरे समय के साथ यह सिर दर्द बढ़ता जाता है। बिना किसी कारण के उल्टी, विजन से जुड़ी समस्याएं, हाथ या पैर में झनझनाहट, बोलने में परेशानी, सोने में कठिनाई, याददाश्त की समस्या, थकान, डेली रूटीन की चीजें करने में कठिनाई और शरीर में कमजोरी जैसी कई समस्याएं वार्निंग साइन हो सकती है। जिन्हे आपको इग्नोर नहीं करना चाहिए।
क्या हो सकते हैं ब्रेन ट्यूमर के कारण?
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author