August 14, 2022

'स्वतंत्र वीर सावरकर' में रणदीप हुड्डा का फर्स्ट लुक आया सामने, एक्टर को पहचानना मुश्किल

wp-header-logo-495.png

आज 28 मई को विनायक दामोदर सावरकर (Veer Savarkar) की 139वीं जयंती है। इस खास अवसर पर फिल्म ‘स्वतंत्र वीर सावरकर’ के निर्माताओं ने विनायक दामोदर सावरकर के फर्स्ट लुक को जारी किया है। यह फिल्म बीते कई समय से सुर्खियों में रहा है। इस फिल्म में रणदीप हुड्डा (Randeep Hooda) स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर का रोल प्ले करते नजर आएंगे। एक्टर ने भी अपने इंस्टाग्राम पर फर्स्ट लुक को शेयर किया है और फैंस को अपने दमदार रोल से चौंका दिया। पोस्टर में लिखा है, “हिंदुत्व धर्म नहीं, इतिहास है।”
A post shared by Randeep Hooda (@randeephooda)
जारी पोस्टर की बात करें तो सावरकर के रोल में रणदीप बिलकुल फिट लग रहे हैं और उन्हें पहचान पाना मुश्किल हो रहा है। फर्स्ट लुक को देख फैंस अभी से फिल्म का इंतजार कर रहे हैं। फैंस फर्स्ट लुक को काफी पसंद कर रहे हैं और कमेंट में खूब प्यार लूटा रहे हैं। अभिनेता रणदीप हुड्डा ने साझा किया, “यह स्वतंत्रता और आत्म-साक्षात्कार के लिए भारत के संघर्ष के सबसे लंबे गुमनाम नायकों में से एक को सलाम है। मुझे उम्मीद है कि मैं एक सच्चे क्रांतिकारी से रूबरू कराने की चुनौती पर खरा उतर सकता हूं और उसकी असली कहानी बता सकता हूं जिसे इतने लंबे समय तक कालीन के नीचे दबा दिया गया था।”

ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श के अनुसार, “रणदीप हुड्डा के इस फिल्म की स्क्रिप्ट पर काम पूरा हो चुका है और एक्टर इसके लिए काफी मेहनत भी कर रहे हैं। एक्टर अपने रोल के लिये वजन कम किया है। रिपोर्ट्स की माने तो फिल्म की शूटिंग अगस्त 2022 में शुरू हो रही है। फिल्म निर्माता संदीप सिंह ने कहा, “ऐसे समय में जब हर्षद मेहता, विजय माल्या और ललित मोदी की फिल्में चलन में हैं, मुझे वीर सावरकर के जीवन की कहानी बताने में अधिक दिलचस्पी है। वह भारत के पहले नायक थे और एकमात्र ऐसे व्यक्ति थे जो 1947 में विभाजन को बचा सकते थे। इस फिल्म के माध्यम से, मैं न केवल एक फिल्म निर्माता के रूप में, बल्कि सबसे महत्वपूर्ण रूप से एक भारतीय के रूप में दुनिया को सावरकर के संघर्ष के बारे में तथ्य बताना चाहता हूं।
उन्होंने आगे कहा कि ” आजादी के लिए उनकी साहसी लड़ाई, अंग्रेजों को डराने वाला उनका निडर व्यक्तित्व और आखिरी सांस तक हिंदुत्व के लिए उनकी प्रतिबद्धता बहुत प्रेरणादायक है। वह सबसे गलत समझा जाने वाला नायक है और यह उचित समय है कि हम उसे समझें, और इसके अलावा इस विद्रोही को मनाएं। उन्हें वह कभी नहीं मिला जिसके वे हकदार थे और इसलिए, मैं सावरकर से अनुरोध करता हूं कि उन्हें भारत रत्न और नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जाना चाहिए।” स्वतंत्र वीर सावरकर आनंद पंडित मोशन पिक्चर्स और लीजेंड स्टूडियो द्वारा प्रस्तुत किया गया है। यह फिल्म आनंद पंडित, संदीप सिंह और सैम खान द्वारा निर्मित, रूपा पंडित और जफर मेहदी द्वारा सह-निर्मित है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author