June 26, 2022

बच्चों में घट रही रोग प्रतिरोधक क्षमता, डिहाइड्रेशन का हो रहे शिकार, गर्मी में ऐसे बढ़ाएं अपने लाडलों की इम्यूनिटी पॉवर

wp-header-logo-511.png

हरिभूमि न्यूज : झज्जर
कोरोना महामारी के चलते पिछले लंबे समय से घरों व मोहल्ले की गलियों में कैद रहने के कारण बच्चों की इम्यूनिटी कमजोर हो गई है। बाहरी वातावरण के संपर्क न आने के कारण अब बच्चे स्वयं को बाहर जाने पर असहज महसूस कर रहे हैं। पिछले करीब दो वर्षों से एसी, पंखें, कूलर सहित छायादार वातावरण में समय व्यतीत करने वाले विद्यार्थी अब सूर्यदेव की गर्मी में नहीं झेल पा रहे। ऐसे में बच्चों के स्वास्थ्य में गिरावट आ रही है वे बीमार पड़ रहे हैं।
एक अनुमान के मुताबिक पिछले वर्षों के मुकाबले चार गुणा अधिक बच्चे बीमार होने पर इलाज के लिए हॉस्पिटल पहुंच रहे हैं। कुछ लोग अपने बच्चों को इम्यूनिटी बढ़ाने के बूस्टर डोज दिला रहे हैं तो बूस्टर डोज खरीदने में असमर्थ कुछ लोग किसी संस्था या सरकारी सहायता की बाट जोह रहे हैं। विशेषज्ञों के अनुसार इस बार बच्चे ज्यादा बीमार हो रहे हैं। बच्चों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। बच्चों में वायर फीवर, कफ कोल्ड, उल्टी-दस्त, नाक से खून निकलना आदि की समस्याए आ रही हैं।
इनके अलावा कुछ बच्चों में एजर्ली की शिकायत भी मिल रही है। कई कई बच्चों में चार से पांच दिनों बाद भी बुखार ठीक नहीं हो पा रहा। लगातार बुखार के कारण मोतीझारा की शिकायत भी बच्चों में मिल रही है। अब स्कूल जाते समय बच्चों को तेज गर्मी का एहसास होने लगा है। चिकित्सकों के अनुसार बच्चे अधिक पानी नहीं पीते इसलिए वे जब तेज धूप में स्कूल या अन्य जगहों पर जाने के लिए घर से बाहर निकलते हैं तो डिहाइड्रेशन का शिकार हो जाते हैं। डिहाइड्रेशन की वजह से बच्चों में पेट दर्द व उल्टी दस्त हो रहे हैं। कई बच्चों को नाक से खून निकलने की समस्याएं भी आ रही है।
संतुलित आहार का करें सेवन
चिकित्सकों व विशेषज्ञों की राय में अभिभावकों को चाहिए कि वे अपने बच्चों के लिए पौष्टिक आहर दें। हेल्थी नाश्ता दें। इसके अलावा बच्चों के खाने में दाल-चावल को शामिल करेंं। उन्हें सेंधा नमक के साथ दही चावल दे सकते हैं। चावलों में जहां विटामिन बी पाया जाता है वहीं अमीनो एसिड होने के कारण यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक है। बच्चों में इम्युनिटी पॉवर को बढ़ावा मिले इसके लिए फल व सब्जियां भी खूब खिलाएं। मौसम के अनुसार फलों में तरबूज व खरबूजा, अंगूर फायदेमंद रहेगा वहीं घीया, टिंडा, तोरी, पेठा आदि से लाभ पहुंचेगा। इसके अलावा सुबह सवेरे सैर पर ले जाकर बच्चों के साथ स्वयं भी हल्का व्यायाम कर सकते हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source