August 8, 2022

Home Remedies: जानें सीने में जलन और दर्द के क्या है कारण, इन घरेलु नुस्खों से करें असरदार इलाज

wp-header-logo-533.png

कभी-कभी शाम को खाने के बाद, लेटने या झुकने पर हमे सीने में दर्द (Sine me Dard) या जलन (Sine Me Jalan) जैसा एहसास होता है। इस समस्या के लिए लोग डॉक्टर के पास जाने की जगह या तोह इग्नोर करते हैं या फिर घेरलू नुस्खों (Home Remedies For Sine Me Jalan) की सहायता से इससे राहत पाने की कोशिश करते हैं। लेकिन अगर यह समस्या बार-बार आपके सामने आ रही है तो यह गंभीर बिमारी भी हो सकती है, तो ऐसी सूरत में आपको डॉक्टर से इस मामले पे बात करनी चाहिए।
सीने में जलन के क्या है कारण
सीने में जलन और दर्द की समस्या खासतौर पर शाम के समय ज्यादा खाना खा लेने के बाद होती है, अगर आप खाने को बहुत जल्दी जल्दी खाते हैं तो इससे एसिड रिफ्लक्स हो सकता है। जो आपके सीने में दर्द का कारण बन सकता है, खाने के तुरंत बाद नहीं लेटना चाहिए। इंसान का मोटापा (Obesity) भी सीने में जलन पैदा कर सकता है, धूम्रपान कम करें, तनाव कम लें इसका सीधा असर आपके दिल पर पड़ेगा। कैफीन, शराब, मसालेदार भोजन, चॉकलेट, टमाटर आधारित प्रोडक्ट्स, पुदीना और कार्बोनेटेड लिक्विड का बहुत अधिक सेवन करने से बचें।
सीने में जलन के लक्षण

सीने में जलन तब शुरू होती है जब पेट का एसिड ऊपर की ओर आपके गले और पेट के पिछले हिस्से को जोड़ने वाले एक ट्यूब पर केंद्रित होता है। सीने में जलन कुछ मिनटों से लेकर कुछ घंटों तक रहती है। झुकने या लेटने पर सीने में दर्द होता है, गले में जलन का अहसास, निगलने में कठिनाई, गले के पिछले हिस्से में अम्लीय, खट्टा या नमकीन स्वाद आना।

सीने में जलन को दूर करने के लिए असरदार घरेलू नुस्खे

पका हुआ केला- एक पका हुआ केला खाएं क्योंकि इसमें पोटैशियम की अच्छी मात्रा होती है जो पेट में एसिड पैदा नहीं होने देती है।

डाइट च्युइंग गम- शुगर फ्री गम चबाएं क्योंकि यह लार को बढ़ाता है। लार निगलने में मदद करती है जिससे एसिड का स्तर कम रहता है और सीने में जलन की समस्या को हल करता है।

ट्रिगर फूड्स से बचने के लिए एक फूड चार्ट बनाए रखें- जैसा कि ऊपर बताया गया है, हार्टबर्न की समस्या को ट्रिगर करने वाले फूड्स की पहचान करें। यह एक भोजन चार्ट तैयार करके व्यवस्थित रूप से किया जा सकता है।

कम मात्रा में और धीरे-धीरे खाएं- बड़ी मात्रा में और बिना सोचे-समझे खाने से वाल्व पर दबाव पड़ता है जिससे एसिडिटी हो जाती है। इसलिए कम मात्रा में खाएं और भोजन को धीरे-धीरे चबाएं।

टाइट-फिटिंग कपड़ों से बचें- टाइट बेल्ट, कपड़े और अंडरगारमेंट्स पेट पर दबाव डालते हैं जिससे सीने में जलन बढ़ जाती है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author