May 25, 2022

भोपाली का मतलब 'होमोसेक्सुअल' बताने पर कानूनी पचड़े में फंसे विवेक अग्निहोत्री, कांग्रेस नेता ने कसा तंज

wp-header-logo-457.png

विवेक अग्निहोत्री (Vivek Agnihotri) निर्देशित ‘द कश्मीर फाइल्स’ (The kashmir Files) फिल्म रिलीज के बाद से ही विवादों में है। इस बार विवेक अग्निहोत्री अपने ही एक बयान को लेकर मुसीबत में फंस चुके हैं। दरअसल उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने भोपाल वासियों पर आपत्तिजनक बयान दिया है। उन्होंने भोपाली का मतलब होमोसेक्सुअल बताया है। वायरल हो रहा यह वीडियो राजनितिक गलियारों में भी काफी चर्चा में है। जिसके बाद यह बात इतनी बढ़ गयी है कि डायरेक्टर कानूनी पचड़े में फंसते नजर आ रहे हैं।
वर्सोवा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज
विवेक अग्निहोत्री के खिलाफ उनके बयान को लेकर मुंबई के वर्सोवा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। शिकायतकर्ता 27 वर्षीय पीआर मैनेजर रोहित पांडे हैं जो मध्य प्रदेश के भोपाल का रहने वाला है। उन्होंने इस मामले में तत्काल प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है।
भोपाली का मतलब होमोसेक्सुअल
इस दोयम दर्जे की मान्यता के लिए मेरी ओर से..#I_M_Sorry_Bhopal

भोपाली होना होमोसेक्सुअल होना कैसे हो सकता है..?

लखनऊ,हैदराबाद,मैसूर भी तो नवाबी शहर हैं..तो क्या वहां भी..! छि:

अगर हम भी कहते फिरें कि तनु श्री दत्त आपको लेकर ऐसा बोलती है तो क्या आप मान लेंगे.!@vivekagnihotri pic.twitter.com/teh5fmixZ0
दरअसल एक वायरल वीडियो में विवेक अग्निहोत्री कह रहे हैं कि “मैं तो भोपाल में बड़ा हुआ हूं लेकिन मैं असली भोपाली नहीं हूं।” उन्होंने आगे कहा कि “क्योंकि भोपाली का एक अलग सन्दर्भ होता है जिसे मैं कभी आपको अकेले में समझाऊंगा। किसी को अगर आप कहते हैं कि ये भोपाली है तो इसका मतलब होता है होमोसेक्सुअल, नवाबी शौक वाला है।”

संगत का प्रभाव होता : दिग्विजय सिंह
विवेक अग्निहोत्री जी यह आपका अपना निजी अनुभव हो सकता है।
यह आम भोपाल निवासी का नहीं है।
मैं भी भोपाल और भोपालियों के संपर्क में 77 से हूँ लेकिन मेरा तो यह अनुभव कभी नहीं रहा।
आप कहीं भी रहें “संगत का असर तो होता ही है”।#KashmirFiles@vivekagnihotri https://t.co/L98WIQvgd2
वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने इस पर आपत्ति जताई है। उन्होंने विवेक पर निशाना साधते हुए ट्वीट कर कहा, “विवेक अग्निहोत्री जी, यह आपका अपना निजी अनुभव हो सकता है। यह आम भोपाल निवासी का नहीं है। मैं 77 से भोपाल और भोपालियों के संपर्क में भी हूं लेकिन मुझे ऐसा अनुभव कभी नहीं हुआ। आप जहां भी रहते हैं, ‘संगत का प्रभाव होता है’।”

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source