February 8, 2023

बाड़मेर में दलित मूक बधिर युवती से गैंगरेप: दरिंदों ने दिन-दहाड़े किया किडनैप, सड़क किनारे मिली लहूलुहान

wp-header-logo-447.png

जयपुर। राजस्थान में महिलाओं और बच्चियों के खिलाफ बढ़ रहे अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे है। प्रदेश में अपराधियों के मन पुलिस का जरा भी खौफ नहीं है। दिन-दहाड़े दरिंदें किडनैप, रैप और मर्डर की घटना को अंजाम दे रहे है। बाड़मेर जिले में एक दलित मूक बधिर युवती से गैंगरेप की घटना सामने आई है। मानवता को शर्मसार करने वाला वाली यह घटना धोरीमन्ना थाना क्षेत्र की बताई जा रही है। यहां हवस के भूखे भेड़ियों ने एक दलित मूक-बधिर युवती को शिकार बनाते हुए उसके साथ बोलेरो गाड़ी में गैंगरेप किया। पुलिस की स्पेशल टीमें अज्ञात बदमाशों का पता लगाने के लिए जुटी हुई है।
सुनसान जगह पर लेकर किया गैंगरेप
बदमाशों ने युवती को सुनसान जगह ले जाकर उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। इस घटना की जानकारी के बाद पुलिस ने पूरे क्षेत्र में नाकेबंदी करवा दी है। इसके साथ ही चार अलग-अलग पुलिस टीमों का गठन कर अज्ञात बदमाशों की तलाश शुरू की जा रही है। वहीं परिजनों ने पीड़ित युवती को खून से लथपथ अवस्था में धोरीमना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया है। इस हादसे के बाद पीड़िता काफी घबराई हुई है।
मुंह दबाकर बोलेरो में उठा ले गए बदमाश
शिकायत में पीड़िता के पिता ने बताया कि उनकी मूक बधिर पुत्री जंगल में शाम को अपने खेत में ही बकरियां चरा रही थी। तभी बोलेरो गाड़ी में सवार होकर आए बदमाश युवती का मुंह दबाकर पास में वन विभाग के एरिया में लेकर गए और वंहा उसके गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। बदमाशों ने युवती के शरीर को भी जगह-जगह से नोच डाला है। बताया जा रहा है कि गैंगरेप की पीड़ित युवती जब बेहोश हो गई तो सभी आरोपी बोलेरो में सवार होकर फरार हो गए।
लहूलुहान व बेहोशी की हालत में मिली
समय पर युवती घर पर नहीं पहुंची तो घरवालों ने ढूंढने लगा। इस दौरान पीड़िता वन विभाग के एरिया में लहूलुहान व बेहोशी की हालत में मिली। इसके बाद परिजनों ने उसे धोरीमना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया, जहां उसका इलाज किया जा रहा है। मामले की गंभीरता को देखते हुए बाड़मेर पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव की देर रात धोरीमना थाने पहुंचे जहां पर पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। पुलिस ने 4 टीमें बनाकर कर अज्ञात बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। युवती बोल नहीं पाने के कारण बदमाशों की पहचान नहीं हो पाई है। एफएसएल टीम घटना स्थल पर बुलाया है।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author