November 27, 2022

Dove Shampoo का करते हैं इस्तेमाल तो हो जाए सावधान, कहीं Hygine के चक्कर में ना हो जाएं Blood Cancer का शिकार

wp-header-logo-358.png

Dove Shampoo Recall: आपने कैंसर (Cancer) होने के कई बहुत अजीब से कारण सुने होंगे, लेकिन क्या कभी ऐसा सुना है कि बालों में इस्तेमाल होने वाले शैम्पू से किसी को कैंसर होने का खतरा हुआ हो? शायद नहीं, लेकिन अब यह सचमें हो रहा है! दरअसल लीडिंग कंपनी यूनिलीवर (Unilever) के कई शैम्पू ब्रांडों में कैंसर को जन्म देने वाले केमिकल्स पाए गए हैं, यही कारण है कि डव (Dove), नेक्सस (Nexus), ट्रेसमे (Tresemme), टिगी (Tigi), सुवावे (Suvave), एरोसोल (Aerosols) जैसे कई ड्राई शैंपू (Dry Shampoo) को अमेरिकी बाजार (American Market) से वापस मंगा लिया गया है। हिंदुस्तान यूनिलीवर (Hindustan Unilever) ने पाया कि उनमें कार्सिनोजेनिक बेंजीन (carcinogenic benzene) होता है, यह केमिकल कैंसर का कारण बनता है। इसलिए उपभोक्ताओं को चेतावनी दी जाती है कि वे एरोसोल ड्राई शैम्पू प्रोडक्ट्स (aerosol dry shampoo) का उपयोग न करें। यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (US Food and Drug Administration) के मुताबिक, इस मामले से देशभर के मेडिकल रिटेलर्स (Medical Retailers) को अवगत करा दिया गया है। एफडीए का कहना है कि इनका प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को तुरंत इन्हें यूज करना बंद कर देना चाहिए।
Dove और Tresemme जैसे शैम्पू बन रहे Blood Cancer की वजह?
एफडीए का कहना है कि जिन लोगों ने इन प्रोडक्ट्स को खरीदा है, उन्हें पैसे वापसी के लिए यूनिलीवर रिकॉल डॉट कॉम वेबसाइट पर जाना चाहिए। वापस लिए जा रहे शैम्पू की लिस्ट में डव ड्राई शैम्पू वॉल्यूम और फुलनेस, डव ड्राई शैम्पू फ्रेश कोकोनट, नेक्सस ड्राई शैम्पू रिफ्रेशिंग मिस्ट और सुवे प्रोफेशनल्स ड्राई शैम्पू रिफ्रेश और रिवाइव जैसे बड़े नाम शामिल हैं। एफडीए ने अपने रिकॉल नोटिस में यह भी कहा कि बेंजीन कई तरह से आपकी बॉडी में प्रवेश करता है। ऐसा कहा जाता है कि यह गंध, मुंह और स्किन के माध्यम से शरीर में प्रवेश करता है। यह ल्यूकेमिया और ब्लड कैंसर को बढ़ावा देता है।
आम जन-मानस द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले इन शैम्पू ब्रांड्स को लेकर सामने आई इस बड़ी खबर ने पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स में एरोसोल की मौजूदगी को लेकर कई तरह के संदेह को जन्म दे दिया है। वहीं बताते चलें कि पिछले डेढ़ साल में कई एयरोसोल सनस्क्रीन (aerosol sunscreens) बाजार से वापस मंगवाए गए हैं। इनमें जॉनसन एंड जॉनसन की न्यूट्रोगेना, एडजवेल पर्सनल केयर कंपनी की बनाना बोट, प्रॉक्टर एंड गैंबल कंपनी का सीक्रेट, ओल्ड स्पाइस,जैसे नाम शामिल हैं। पिछले साल, प्रॉक्टर एंड गैंबल ने 30 से अधिक एरोसोल स्प्रे हेयरकेयर प्रोडक्ट्स को भी वापस बुलाया था, इनमें ड्राई शैम्पू और ड्राई कंडीशनर शामिल हैं। कंपनी ने चेतावनी दी है कि इन प्रोडक्ट्स में कैंसर को जन्म देने वाला बेंजीन केमिकल (benzene chemical) हो सकता है।

शैम्पू के आलावा इन प्रोडक्ट्स में भी पाया गया Benzene Chemical
शैंपू के कारण ब्लड कैंसर होने का खतरा बढ़ने की समस्या सामने आना, यह पहली बार नहीं है। इससे पहले भी कई बार स्प्रे-ऑन ड्राई शैंपू को इतनी खतरनाक समस्या का सामना करना पड़ा है। कंपनी ने पिछले साल दिसंबर में पैंटीन और हर्ब एसेंस ड्राई शैंपू को भी वापस मंगाया था, उस समय भी यही पाया गया था कि उन प्रोडक्ट्स में बेंजीन होता है, जो कैंसर का कारण बनता है। न्यू हेवन के वालिसुर एनालिटिकल लैब में किए गए परीक्षणों में पाया गया कि इन शैंपू में बेंजीन होता है। कारण था कि P&G ने मई 2021 में Valisur और Aerosol उत्पादों का भी परीक्षण किया था। और इनमें भी.. बेंजीन पाया गया था।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author