September 30, 2022

Health: गुणों से भरपूर हैं ये हीलिंग फूड्स, बीमारियों से बचने के लिए करें सेवन

wp-header-logo-412.png

Health: बीमार होने पर या चोट लगने पर तेज रिकवरी (Speedy Recovery) के लिए डॉक्टर जो दवाइयां बताते हैं, वो तो आप खाते ही हैं। लेकिन अगर आप कुछ हीलिंग फूड्स (Healing Foods) का भी सेवन करें तो आप कई बीमारियों (Diseases) से बचे रहेंगे और बीमार होने पर इसकी रिकवरी भी जल्दी और अच्छी तरह से होगी। इनके बारे में आप भी जरूर जानना चाहेंगे। यहां हम आपके लिए लेकर आएं हैं न्यूट्रीशनिस्ट-डाइटिशियन डॉ. पापिया भद्र मंडल (Dr. Papiya Bhadra Mandal) से बातचीत पर आधारित ऐसे फूड की जानकारी जो आपको बीमारियों से बचाने के साथ-साथ आपको हील भी करते हैं…
अंजीर
अंजीर या फिग, कैल्शियम और फाइबर्स का अच्छा स्रोत है। बढ़ती उम्र के साथ हडि्डयों में होने वाली कमजोरी को दूर करने में यह काफी मददगार साबित हो सकता है। इसमें भरपूर मात्रा में मौजूद फाइबर कोलोन, ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर का जोखिम भी कम करता है।
चुकंदर
पोषक तत्वों से भरपूर चुकंदर दिमाग तेज-तर्रार रखता है। इसके सेवन से नाइट्रिक एसिड का उत्पादन होता है, जिससे पूरे शरीर में रक्त संचार ठीक होता है। दिमाग के उन हिस्सों में भी रक्त संचार दुरुस्त होता है, जो डिमेंशिया (Dementia) और डिजेनरेशन (Degeneration) जैसी बीमारीयों से जुड़े होते हैं।
करौंदा
यूरीनरी ट्रेक्ट इंफेक्शन (Urinary Tract Infection) को ठीक करने में करौंदा बहुत कारगर है। यह खट्टा फल आपको हार्ट डिजीज से भी बचाता है। इसमें एंथोसायनिंस, फ्लेवोनॉल, प्रोंथोसायनीडिंस और ऐसे केमिकल होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल स्टोर होने से रोकते हैं।
कीवी
कीवी में मौजूद ल्यूटिन और जिजैंथिन ऐसे एंटीऑक्सीडेंट्स हैं, जो आंखों की सेहत के लिए लाभकारी होते हैं। इसके अलावा इनमें विटामिन सी, ई और फाइटोकेमिकल होते हैं, जो फ्री रेडिकल्स से होने वाली क्षति से बचाते हैं।
हरी मिर्च
हरी मिर्च और शिमला मिर्च में पाया जाने वाला तीखा रसायन रक्त के थक्के बनने से रोकता है, जिससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक जैसे जानलेवा रोगों से बचाव होता है। इसके अलावा मिर्च खाने से मेटाबॉलिज्म यानी उपापचय बढ़ता है और साइनस यानी नाक की समस्या से अस्थायी राहत मिलती है।
ब्रोकली
ब्रोकली में मौजूद सल्फोराफेन, फेफड़ों और धमनियों में किसी प्रकार के संक्रमण से बचाता है। इसकी फ्रोजन वैरायटी में तो ताजा ब्रोकली से 35 फीसदी ज्यादा बीटा कैरोटीन होता है। इसमें विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में होता है, जो स्किन की हेल्थ, ग्लो और कसावट को बरकरार रखता है।
संतरे का सफेद रेशा
संतरा, विटामिन सी का अच्छा स्रोत है, यह तो सब जानते हैं। लेकिन संतरे और छिलके के बीच जो सफेद रेशे होते हैं, उनका स्वाद भले ही कड़वा होता हो लेकिन ये सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। इनमें फाइबर के साथ भरपूर एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो कई रोगों से बचाते हैं।
सेलरी की पत्तियां
कुछ लोग सेलरी के डंठल तो इस्तेमाल करते हैं और पत्तियों को फेंक देते हैं। जबकि सेलरी की पत्तियां इस पौधे का सबसे पोषक भाग होती हैं। इनमें कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम, बीटा कैरोटीन और विटामिन-सी जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।
लेखक- शिखर चंद जैन (Shikhar Chand Jain)
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author