January 31, 2023

T20 Cricket: टी20 में द्रविड़ से बेहतर कोच साबित होंगे नेहरा ? 4 प्वाइंट्स में पढ़िए दिग्गज की खासियत

wp-header-logo-435.png

पहले एशिया कप (Asia Cup) और फिर टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में टीम इंडिया ने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं किया। टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में मिली हार के बाद रोहित शर्मा की कप्तानी पर सवाल उठने लगे थे। अब मुख्य कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की काबिलियत पर भी सवाल उठ रहे हैं। इस कड़ी में कई पूर्व क्रिकेटरों से लेकर फैंस तक राहुल द्रविड़ को टीम के इस हाल के लिए जिम्मेदार मानते हैं। लोगों का कहना है कि राहुल द्रविड़ ने जो टीम बनाई है, वो कहीं से भी सही नहीं है। इन लोगों का कहना है कि राहुल को स्वयं भी टी20 क्रिकेट (T20 cricket) का ज्यादा एक्सपीरियंस नहीं है। इसके चलते कोच द्रविड़ को बदला जाना चाहिए। खास बात है कि द्रविड़ की जगह आशीष नेहरा के नाम को लेकर सबसे ज्यादा चर्चा चल रही है।
क्या है हरभजन की राय?

राहुल द्रविड़ के टी20 फॉर्मेट (T20 format) में कोच बने रहने पर भारतीय टीम के पूर्व स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने भी राहुल द्रविड़ पर सवाल खड़े किए हैं। हरभजन सिंह के मुताबिक राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की जगह कोचिंग स्टाफ में टी20 फॉर्मेट का अनुभव रखने वाला व्यक्ति होना चाहिए, जिसे इस फॉर्मेट की अच्छी समझ हो। हरभजन सिंह नए कोच के लिए सीधे तौर पर आशीष नेहरा (Ashish Nehra) का नाम सामने लिया था। आइये इन चार प्वाइंट्स में समझते हैं कि आशीष नेहरा की उन योग्याताओं के बारे में, जिनका नाम कोच बनाने की चर्चाओं में सबसे आगे है।
1. टी20 मैचों का अच्छा अनुभव
आशीष नेहरा (Ashish Nehra) कुछ साल पहले रिटायर हो चुके हैं। उन्हें टी20 फॉर्मेट की अच्छी समझ है। हरभजन की बातों में दम है क्योंकि नेहरा के पास 88 आईपीएल मैचों का अनुभव है। इसके अलावा उन्होंने खुद 28 टी20 मैच (T20 matches) खेले हैं।
2. टीम प्रबंधन में अच्छा
आशीष नेहरा (Ashish Nehra) की एक और विशेषता यह है कि वह टीम प्रबंधन में शानदार हैं। खिलाड़ियों के साथ उनका दोस्ताना रिश्ता उनके प्लस पॉइंट्स में से एक है। इसलिए खिलाड़ी नर्वस नहीं हैं। वे मैदान पर अच्छा प्रदर्शन करते हैं। नेहरा ने गुजरात टाइटंस के लिए ऐसा ही किया। नेहरा ने प्लेइंग इलेवन (playing XI) में कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया। इसमें साई किशोर, साहा, वेड, राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ी थे।
3 संख्याओं की बिल्कुल परवाह नहीं करते
आशीष नेहरा (Ashish Nehra) की एक और अनोखी बात यह है कि वह नंबर और मैच अप जैसी चीजों को ज्यादा महत्व नहीं देते हैं। अगर कोई खिलाड़ी अच्छा है तो वह किसी भी स्थिति में और किसी भी विरोधी के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन कर सकता है। वह संख्या से ज्यादा खिलाड़ी की फॉर्म और क्षमता को तवज्जो देते हैं।
4 हार्दिक पांड्या के साथ अच्छी ट्यूनिंग
हार्दिक पांड्या 2024 टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2024) के दौरान कप्तान हो सकते हैं। हाल ही में पांड्या ने न्यूजीलैंड में टी20 सीरीज में टीम को जीत दिलाई थी। अगर पंड्या कप्तान हैं तो नेहरा की उनसे अच्छी ट्यूनिंग हो सकती है। आईपीएल 2022 (IPL 2022) में इन दोनों ने मिलकर गुजरात टाइटंस जैसी नई टीम को चैंपियन बनाया।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author