May 21, 2022

कोटा की सड़कें सुगम यातायात और दुर्घटना मुक्त शहर की पहचान बनेंगी: धारीवाल

wp-header-logo-538.png

संदेश न्यूज। कोटा. नगरीय विकास व स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने सोमवार को प्रमुख चौराहों के सौंदर्यीकरण एवं अंडरपास के चल रहे निर्माण कार्योें का निरीक्षण किया। मंत्री धारीवाल ने अंटाघर अंडरपास से निरीक्षण की शुरुआत करते हुए नव विकसित ग्लोब सर्किल में विश्व के सभी देशों को अलग-अलग रंगों से प्रदर्शित करने, फव्वारा से ग्लोब पर पानी की नियमित बौछार गिराने तथा प्लांटेशन के पास 3-3 फीट रैलिंग लगाने के निर्देश दिए।
उन्होंने अन्डर पास से आने वाले यातायात के सुगम निकास एवं दुर्घटना मुक्त के लिए डिवाइडर को सर्किल तक बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने सर्किल के कार्य में देरी करने पर संवेदक के खिलाफ जुर्माना लगाने तथा फरवरी माह तक कार्य पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने अंडरपास एवं जेडीबी कॉलेज के सामने बनाए प्लांटेशन स्थलों पर तेजी से कार्य पूरा करवाने के निर्देश दिए। उसके बाद मंत्री धारीवाल कोटड़ी चौराहे पर बनाए जा रहे ग्रेट सेपरेटर की नई डिजाइन के बारे में अधिकारियों से चर्चा कर चारों और से आने वाले यातायात की निकासी के बारे में किए गए प्रावधानों की जानकारी ली।
उन्होंने कहा कि नई डिजाइन से आवागमन भी सुगम होगा तथा स्थानीय नागरिकों को भी किसी प्रकार की परेशानी नहीं रहेगी। उन्होंने यूआईटी के अधिकारियों को टेंडर प्रक्रिया शीघ्र पूरी करने के निर्देश दिए। इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कोटा शहर के प्रमुख चौराहे के अंडरपास और फ्लाईओवर के जो कार्य वर्तमान में चल रहे हैं, उनमें 90 फीसदी के काम लगभग पूरे हो गए हैं। शेष कार्य भी तेजी से चल रहा है। इन निर्माण कार्यों के पूरा होने के बाद कोटा के चौराहे पर्यटेक एवं दुर्घटना मुक्त शहर की पहचान बनेंगे।
कॉलेज का कायाकल्प देखकर हुए खुश
मंत्री धारीवाल राजकीय महाविद्यालय भवन के कायाकल्प को देखकर गद्गद् नजर आए, उन्होंने कहा कि 100 साल से भी पुरानी यह इमारत आज भी बेहतरीन नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि इस कॉलेज में अध्ययन के साथ छात्रसंघ अध्यक्ष भी रहा हूं। मन में इस भवन के कायाकल्प की इच्छा थी। आज प्रसन्नता व गर्व की अनुभूति हो रही है। उन्होंने भवन के रखरखाव व सफाई के लिए कॉलेज प्रशासन को सफाईकर्मी रखने व चौकीदार नियुक्त करने के निर्देश दिए।
एरोड्राम अंडरपास व मीनार का काम 10 फरवरी तक पूरा करें
मंत्री धारीवाल एरोड्राम सर्किल के अंडर पास अंडरपास का निरीक्षण कर सौंदर्यीकरण के कार्य को बारीकी से देखा और समय पर गुणवत्ता के साथ कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 10 फरवरी तक अंडरपास की दीवारों पर सौंदर्यकरण कार्य तथा एक मिनार के कार्य को पूरा किया जाए तथा मुख्य सर्किल पर बनने वाली शेष मिनार के कार्य को गति प्रदान करने के लिए श्रमिकों की संख्या बढ़ाएं। घोड़े वाले बाबा सर्किल के कार्य का निरीक्षण करते हुए कहा कि 28 फरवरी तक निर्माण कार्य पूरा कर सौंदर्यीकरण के साथ लाइटिंग का कार्य भी गति के साथ करें।
उन्होंने सर्किल पर लगने वाले घोड़े एवं शेर की प्रतिमाओं की स्थापना के कार्य को भी पूर्ण गुणवत्ता के साथ करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सर्किल पर ऊपर से फव्वारों से गिरने वाला पानी में महराब की कारीगरी भी दिखाई दे। मंत्री धारीवाल ने कलादीर्घा के सामने ग्रामीण हाट के स्थान पर विकसित की जा रही बहुउद्देशीय नागरिक सुविधाओं का निरीक्षण कर कहा कि पुस्तकालय में प्रवेश के लिए एक द्वार रखें, शेष दरवाजों पर ग्लास लगाए जाएं, जिससे पुस्तकों पर धूल-मिट्टी नहीं जम सके।
उन्होंने जून तक पुस्तकालय के कार्य को पूरा करने, बावड़ी के सौंदर्यीकरण एवं छतरियों के निर्माण को गुणवत्ता के साथ कराते हुए बावड़ी से पानी निकासी एवं भराव के लिए पाईप लाईन का प्रावधान भी करने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 30 अप्रैल तक काम पूरा नहीं करने पर प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना लगाया जाएगा। बस स्टॉप में अलग-अलग टिकट विंडो के साथ यात्रियों को बैठने के लिए चार-चार सीटर बेंच लगाने एवं यात्री सुविधाओं को गुणवत्ता के साथ पूरा कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बस स्टॉप से पुस्तकालय एवं कलादीर्घा की तरफ आवागमन नहीं हो, इसके लिए बीच में दीवार बनाकर रेलिंग लगाई जाएं जिससे दोनों कैम्पस अलग-अलग दिखाई दें। उन्होंने बस स्टॉप के कार्य को एक माह में पूरा करने के निर्देश दिए।
ये रहे मौजूद
इस दौरान संभागीय आयुक्त दीपक नंदी, जिला कलक्टर हरिमोहन मीना, यूआईटी पूर्व अध्यक्ष रविन्द्र त्यागी, नगर विकास न्यास के विशेष अधिकारी आरडी मीना, नगर विकास न्यास सचिव राजेश जोशी सहित अभियंता मौजूद रहे।
 
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source