December 3, 2022

‘धारीवाल जी, कोटा उत्तर में तीन दिन से नल बंद हैं…’ घर-घर में पेयजल की किल्लत, कैम्परों के लिए दौड़-भाग

wp-header-logo-500.png

news website
कोटा. नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल के शहर कोटा में पिछले तीन दिन से नल बंद हैं। पेयजल की किल्लत इस हद तक बढ़ गई कि अब मनमाने पैसे देकर भी पानी नहीं मिल रहा। कैंपर्स के लिए लोगों को दौड़भाग करनी पड़ रही है। यूं तो इन दिनों पीने के पानी की किल्लत शहरभर में आ गई है, लेकिन उसमें भी कोटा उत्तर विधानसभा क्षेत्र के लोग ही सबसे ज्यादा परेशान हैं। इन क्षेत्रों में करीब तीन लाख परिवार रहते हैं।
कोटा बैराज के गेट खोलते ही जलदाय विभाग की ओर से मिनी अकेलगढ़ के लिए रॉ वॉटर उठाने वाले इंटेक पम्पों को बाहर निकाल लिया गया है, जिसके कारण पूरे कोटा उत्तर विधानसभा क्षेत्र के नदी पार, स्टेशन क्षेत्र, नयापुरा क्षेत्र, आकाशवाणी क्षेत्र, खेड़ली फाटक क्षेत्र, खाई रोड, बारां रोड, बजरंग नगर, पुलिस लाइन, शिवनगर, बोरखेड़ा, महात्मा गांधी कॉलोनी, रंग तालाब क्षेत्र, पुरोहित जी टापरी, माला फाटक का क्षेत्र, भदाना, रंग तालाब के अलावा लाडपुरा विधानसभा के पूनम कॉलोनी क्षेत्र, चन्दे्रसल ओर रायपुरा क्षेत्र में पेयजल सप्लाई बंद हो गई है। लोगों ने एक दिन तो निकाल लिया लेकिन अब तीन दिन से सप्लाई नहीं होने से घर-घर में परेशानी हो गई है।
इंटकवैल बैराज के गेट से दूर करना ही स्थाई समाधान
मिनी अकेलगढ़ फिल्टर प्लांट के लिए रॉ वाटर उठाने का इंटकवैल बैराज के गेटों के बिल्कुल पास बना दिया गया। इससे जब भी नदी में बैराज से पानी छोड़ा जाता है तो गेटों से पानी तेजी से दौड़ता है और इंटकवैल के पंपों के पाइपों को तोड़ने की आशंका बन जाती है। पाइपों के टूटने के डर से पंपों के पाइप को ऊंचा उठा लिया जाता है। जब तक इंटकवैल को बैराज के गेट से दूर नहीं बनाया जाता तब तक इस समस्या का स्थाई समाधान नहीं हो सकता।
सिर्फ राहत शिविरों का ध्यान
प्रशासन की ओर से जिला कलक्टर और एसपी सहित सभी अधिकारी दौरा कर प्रभावित लोगों को राहत कैम्पों में पहुंचा रहे हैं, इन लोगों के लिए तो प्रशासन के द्वारा सारा इंतजाम किया जा रहा है। लेकिन आम जन चम्बल नदी के पानी से प्रभावित नहीं है, वो पेयजल को तरस रहे हैं। मंगलवार को भी लोग पेयजल के इंतजाम के लिए दिनभर कैम्पर सप्लायर्स, हैंडपम्प ओर ट्यूबवैल तलाशते रहे। कैम्पर के प्लांट संचालकों ने भी क्षमता से कई गुना अधिक डिमांड आने ओर कैम्पर खत्म होने के कारण पानी उपलब्ध कराने में असमर्थता जता दी।
आज टैंकर से सप्लाई का दावा
जलदाय विभाग के एक्सईएन श्याम माहेश्वरी ने बताया कि बुधवार से टैंकरों से पेयजल उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा। अभी तक टैंकरों से सप्लाई नहीं की है। नदी पार क्षेत्र में कुछ जगह 5 टैंकरों से 20 ट्रिप में पानी पहुंचाया था। वहीं कई समाजसेवियों ने अपने स्तर से टैंकरों से कुछ इलाकों में पानी भेजा है। वहीं कुन्हाड़ी क्षेत्र में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अनिल सुवालका ने अपने पास के पार्क के ट्यूवैली का पाइप बाहर निकालकर आसपास के लोगों को पानी उपलब्ध करवाया।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author