August 13, 2022

Health Tips: अगर आप भी बार-बार पेशाब आने की समस्या से है परेशान, तो अपनाएं ये नुस्खे

wp-header-logo-316.png

कई बार लोगों को महसूस होता है कि उन्हें सामान्य से ज्यादा बार पेशाब (frequent urination) करने की इच्छा हो रही है। बार-बार पेशाब (frequent urination) आना एक बड़ी परेशानी का कारण बन जाता है क्योंकि यह स्थिति दिनचर्या में दिक्कतें पैदा करती है और रात की नींद भी खराब करती है। कई मामलों में लोगों को असुविधा महसूस होती है।
एक्सपर्ट्स के अनुसार एक स्वस्थ व्यक्ति दिन में 4 से 10 बार बाथरूम जाता है लेकिन अगर इससे अधिक बार उसे पेशाब करने के लिए बाथरूम जाना पड़े तो उसे इस तरफ ध्यान देना चाहिए। बार-बार पेशाब (frequent urination) आने के कई कारण हो सकते हैं जैसे किसी प्रकार का इंफेक्शन, डायबिटीज, पेट में जलन या कुछ ऐसी चीजों का सेवन जो पेट के लिए नुकसानदायक हों। अगर आपके साथ या आपके किसी करीबी के साथ ऐसा हो रहा हो तो जान लीजिए घरेलू नुस्खे:-
नारियल पानी पीने से मिल सकता है आराम- नारियल पानी (Coconut Water) एक नेचुरल डायूरेटिक या मूत्रवर्धक ड्रिंक है। यह उन लोगों के लिए अधिक लाभाकारी है जो लोग किसी इंफेक्शन (Infection) की वजह से बार-बार पेशाब करते हैं। नारियल पानी पीने सेयूटीआई के लक्षणों से राहत मिलती है और पेशाब करते समय होने वाली जलन से भी राहत मिलती है।
तिल और गुड़- तिल और गुड़ को एक-एक चम्मच मिलाकर खाएं। इस उपाय को तब तक अपनाएं जब तक कि बीमारी के लक्षण गायब न हो जाएं। तिल में मौजूद तत्व शरीर में होने वाले संक्रमणों को कम करते हैं और इस समस्या से छुटकारा दिलाते हैं।

ताजे फलों और सब्जियों का जूस पीने से भी मिलेगा आराम- सब्जियों और फलों में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो पेशाब से जुड़ी समस्याओं को कम कर सकते हैं। ककड़ी, पुदीना, टमाटर और लौकी जैसे फलों-सब्जियों का जूस बनाकर पीने से ना केवल शरीर को अंदर से साफ रखने में मदद होगी बल्कि, इससे हाइड्रटेडे रहने में भी सहायता होती है वहीं, यूरीन से जुड़ी परेशानियों (frequent urination) से भी आराम मिलता है।
अनार का छिलका- अनार विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। यह मूत्राशय में होने वाले बैक्टीरिया से बचाता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं जबकि विटामिन सी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाती है, जिससे संक्रमण से लड़ना आसान होता है। इसके उपयोग के लिए अनार के छिलकों को पीसकर पेस्ट बना लें और उसमें आधा चम्मच पानी मिलाकर इस पेस्ट को पानी या दूध में मिलाकर पी लें।
दिनभर में पीएं 2 लीटर पानी- पेशाब से जुड़ी समस्याएं किडनी से जुड़ी हुई होती हैं और किडनी के डिटॉक्सीफिकेशन के लिए अधिक मात्रा में पानी पीने की सलाह दी जाती है। इसीलिए, बार-बार पेशाब की समस्या होने पर अधिक मात्रा में पानी पीएं। दिनभर में 2से 3 लीटर पानी पीने से यूटीआई जैसी परेशानियों से आराम मिलता है। पानी के अधिक सेवन के लिए नींबू पानी, फ्लेवर्ड वॉटर, नारियल पानी और सब्जियों का जूस भी पी सकते हैं।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author