June 29, 2022

बूंदी के कांग्रेस पार्षद रोहित बैरागी 1.50 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

wp-header-logo-439.png

news website
बून्दी. Acb मुख्यालय के निर्देश पर कोटा स्पेशल यूनिट इकाई द्वारा मंगलवार को बूंदी में कार्यवाही करते हुए वार्ड संख्या 1 बालचंद पाड़ा, से कांग्रेस के युवा पार्षद रोहित बैरागी को परिवादी से 1 लाख 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि Acb की स्पेशल यूनिट-कोटा इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि स्ट्रीप ऑफ लैण्ड में मकान का निर्माण कार्य करने देने एवं परेशान नहीं करने की एवज में पार्षद रोहित बैरागी ने स्वयं के लिए 1 लाख रुपए एवं सभापति नगर परिषद के नाम पर 50 हजार रुपए, कुल 1 लाख 50 हजार रुपए रिश्वत राशि की मांग कर परेशान किया जा रहा है।
जिस पर एसीबी, कोटा के पुलिस अधीक्षक आलोक श्रीवास्तव के सुपरवीजन में Acb स्पेशल यूनिट कोटा इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय स्वर्णकार के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन कर मंगलवार को यूनिट उपाधीक्षक धर्मवीर सिंह व पुलिस निरीक्षक रमेशचंद आर्य एवं उनकी टीम ने बूंदी में ट्रेप कार्यवाही करते हुए रोहित बैरागी पुत्र महावीर बैरागी निवासी बालचंद पाड़ा, बूंदी हाल पार्षद वार्ड संख्या- 1, बालचंद पाड़  को परिवादी से 1 लाख 50 हजार रुपए की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है।
उधर,  एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम. एन. के निर्देशन में आरोपी से पूछताछ जारी है। Acb द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।
पार्षद के घर पर ली जा रही तलाशी
नगर परिषद के पार्षद रोहित बैरागी को डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत लेने के आरोप में मंगलवार सुबह एसीबी कोटा स्पेशल यूनिट द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद स्पेशल यूनिट प्रभारी धर्मवीर सिंह के निर्देश पर बूंदी एसीबी टीम द्वारा पार्षद बैरागी के घर की तलाशी ली जा रही है। धर्मवीर सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मामले की गहनता से जांच की जा रही है। अभी पार्षद से एसीबी यूनिट द्वारा पूछताछ की जा रही है।
उन्होंने मामले में अन्य लोगों के नाम आने सामने आने से भी इनकार नहीं किया है। पत्रकारों द्वारा मामले में सभापति और कर्मचारियों की भूमिका को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में यूनिट प्रभारी ने कहा कि अभी मामले में जांच की जा रही है। अगर सभापति या उनके परिवार के किसी सदस्य या किसी कर्मचारी की कोई संदिग्ध भूमिका सामने आती है तो उनके विरुद्ध भी एसीबी द्वारा कार्रवाई की जाएगी।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source