May 25, 2022

ALL India University Games: स्वर्ण जीतकर Neeraj Chopra के दोस्त ने की वापसी, 3 साल रहे थे डिप्रेशन में

wp-header-logo-500.png

खेल। इस साल हुए ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी खेलों में हरियाणा के जैवलिन थ्रोअर विक्रांत मलिक (Vikrant Malik) ने स्वर्ण पदक जीता है। नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) के दोस्त रहे विक्रांत के लिए यह जीत काफी अहम थी क्योंकि यह जीत उन्हें लंबे और कड़ी मेहनत के बाद हासिल हुई है। विक्रांत 3 साल तक अपनी चोट के चलते बाहर रहे थे। लेकिन अब उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना जलवा दिखाना शुरू कर दिया है। कुछ सालों पहले विक्रांत एक जूनियर मीट के दौरान अपने करीबी दोस्त नीरज चोपड़ा से मिले थे। तब नीरज ने विक्रांत को पंचकूला स्टेडियम (Panchkula Stadium) में आकर ट्रेनिंग करने को कहा था। लेकिन ऐसा ना हो सका।
चोट के कारण 3 साल नहीं खेले विक्रांत

चोट इतनी ज्यादा लगी थी कि विक्रांत उस हाथ से कुछ भी नहीं पकड़ पाते थे। विक्रांत ने अपनी इस लगी चोट को कई डॉक्टर्स को दिखाई लेकिन कोई फायदा ना दिखा। सभी ने उन्हें सलाह दी कि वह जैवलिन खेल को छोड़कर एथलेटिक्स की तरफ ध्यान देना शुरू कर दें। लेकिन विक्रांत इसके लिए तैयार नहीं हुए। उनके लिए जैवलिन खेल ही सब कुछ था। वह अपने करियर को लेकर बहुत ही ज्यादा परेशान होने लगे थे। इसी वजह के चलते उन दिनों उनका वजन 10 किलो कम हो गया।

मलिक की नजरें हैं एशियन गेम्स पर

विक्रांत मलिक अपनी वापसी को लेकर काफी खुश हैं। जैसे ही उन्हें पता चला कि अब वह अपनी बाजू को स्ट्रेच कर पा रहे हैं तभी वह गांव के मैदान पर पहुंच गए। 3 साल के लंबे समय के बाद उनका पहला थ्रो सिर्फ 30 मीटर तक ही जा सका। हालांकि उन्हें इस बात की बड़ी खुशी थी कि वह ऐसा कर पा रहे हैं। साल 2017 में उन्होंने प्रतियोगिताओं में भाग लेने की शुरुआत की। वह फिलहाल एशियन गेम्स के लिए अपनी तैयारीयों में जुटे हैं। जहां उनकी नजर 85 मीटर का डिस्टेंस कवर करने पर टिकी हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source