January 29, 2023

तेज बुखार के कारण बच्चों को पड़ सकता है दौरा, जानें इसके लक्षण और कैसे करें बचाव

wp-header-logo-351.png

Seizures in Fever: सर्दी-जुकाम (Cold) और बुखार (Fever) कुछ ऐसी समस्याएं हैं, जो किसी भी मौसम में आपको बीमार कर सकती हैं। सर्दी-जुकाम और बुखार वैसे तो चिंता का विषय नहीं होते हैं, कई बार ये हमारे शरीर की थकान के भी संकेत देते हैं। लेकिन अगर ये समस्या बच्चों को हो रही हो तो परेशानी का सबब बन सकती है। अगर आपके बच्चे की उम्र 6 महीने से 5 साल के बीच है तो आपको इसे गंभीरता से लेना चाहिए। खासतौर पर अगर बच्चे को बुखार के साथ ही दौरे पड़ रहे हों तो आपको बहुत सावधानी बरतने की जरुरत है।
इस उम्र के बच्चों में बुखारी दौरा (Febrile Seizure) पड़ने का खतरा ज्यादा होता है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि लोगों का मानना है कि जिस इंसान को जिंदगी में एक बार दौरा पद जाता है। उसे दुबारा इस तरह का दौरा पड़ने का खतरा होता है। खासतौर पर पहले दौरे के बाद अगले 12 महीने के दौरान ही आपके बच्चे को दूसरा दौरा भी पड़ सकता है।
जानिए बुखारी दौरे पड़ने पर क्या लक्षण दीखते हैं?
जब किसी बच्चे को बुखारी दौरा पड़ता तो वह बेहोश हो सकता है। इस दौरान उसके शरीर के दाईं और बाईं दोनों ओर के अंग बहुत तेजी से हिलने लगते हैं। इसके साथ ही दौरा पड़ने पर बच्चे की आंखें ऊपर की ओर चली जाती हैं, जिससे आपको आंख का बस सफेद हिस्सा ही नजर आता है। बच्चे का शरीर बिल्कुल अकड़ जाता है, बच्चे की ऐसी हालत किस भी माता-पिता और परिजनों को बहुत ज्यादा डरा सकती है। यह स्थिति बहुत ज्यादा परेशान करने वाली होती है, लेकिन बता दें कि ज्यादातर मामलों में बुखारी दौरा बहुत लंबे समय तक नहीं चलता और जल्द ही आपका बच्चा नॉर्मल हो जाएगा।
बच्चे को कभी बुखारी दौरा पड़े तो क्या करना चाहिए?
सबसे पहले माता-पिता अपने बच्चे की ये हालत देखकर पैनिक ना करें, खुद को संभालते हुए ध्यान से अपने बच्चे को नॉर्मल करने की कोशिश करें:-
1. सबसे पहले बच्चे को पेट के बल लिटा दें।
2. ध्यान रहे जहां आप बच्चे को लिटा रहे हैं, उसके आपपास कोई ऐसी चीज ना हो जिससे बच्चे को चोट लग सकती है।

3. बच्चे के कपड़े उतार दें, दौरा पड़ने के दौरान बच्चे के शरीर पर टाइट कपड़े नहीं होने चाहिए।

4. आप आपने बच्चे को लिटाने के बाद भी पकड़े रहें, ताकि उसे किसी तरह की चोट न लगे।

5. ध्यान रहे बुखारी दौरे को रोकने की कोशिश में बच्चे के मुंह में कुछ भी न डालें।

6. अगर दौरा पांच मिनट से ज्यादा समय तक रहता है, तो 102 या 108 या 112 नंबर पर तुरंत कॉल करके एंबुलेंस मंगवाएं।

7. बुखारी दौरा रुकने के बाद भी अगर बच्चा ठीक से रिकवर नहीं हो पाया है तो डॉक्टर से संपर्क करना बहुत जरूरी है।

8. अगर आपके बच्चे को पहली बार इस तरह का दौरा पड़ा है तो तुरंत उसे किसी नजदीकी अस्पताल में लेकर जाएं। जहां उसकी ठीक तरह से देखभाल हो सके।

© Copyrights 2023. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author