August 18, 2022

बेखौफ अपराधी! नागौर में नाबालिग से गैंगरेप, जयपुर में नशे के पैसे नहीं दिया तो प्राइवेट पार्ट में…

wp-header-logo-403.png

जयपुर। राजस्थान में महिलाओं और बच्चों खिलाफ बढ़ रहे अपराधिक मामले रूकने का नाम नहीं ले रहे है। प्रदेश हर जिले से रोजाना मासूब बच्चियों के साथ दरिंदगी की घटनाएं सामने आ रही है। प्रदेश के नागौर जिले में एक नाबालिग बच्ची के साथ गैंगरेप की घटना सामने आई है। वहीं, जयपुर में नशे के लिए पैसे नहीं देने पर सिर को कुचल डाला और फिर प्राइवेट पार्ट में स्टील की रॉड डाल दी गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
4 नाबालिग सहित 5 लोगों ने किया गैंगरेप
नागौर में 14 साल की बच्ची से गैंगरेप का मामला सामने आया है। पीड़िता के साथ 4 नाबालिग समेत 5 लोगों ने बारी-बारी से रेप किया। मामला सामने आने के बाद पीड़िता की मां उसे लेकर थाने पहुंची। यहां पीड़िता की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज किया। मामला जिले के माराेठ थाना क्षेत्र का है। घटना 6 अप्रैल की है। पीड़िता ने बताया कि अप्रैल में वह चितावा थाना क्षेत्र के एक गांव में मायरे के कार्यक्रम में परिजनों के साथ गई थी।
डरा धमकाकर खेत में ले गए
वहां सभी आरोपी उसे डरा-धमका कर खेत में ले गए। यहां सभी ने बारी-बारी से उसके साथ रेप किया। बताया जा रहा है कि एक नाबालिग आरोपी पीड़िता का रिश्तेदार है और बाकी 4 आरोपी भी पहचान के ही है। घटना के बाद से मासूम डर गई थी। इसलिए उसने किसी को कुछ नहीं बताया। वह परेशान रहने लगी तो परिजनों से पूछताछ भी की। लेकिन, डर के मारे वह कुछ बता नहीं पाई। 4 नाबलिग सहित कुल 5 आरोपी नामजद है। पुलिस ने पांचों आरोपियों की तलाश शुरू कर दी हैं।
नशे के लिए नहीं दिए पैसे तो कुचला सिर
जयपुर के सोढ़ाला इलाके में 4 दिन पहले हुई हत्या के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। सोड़ाला की 4 नंबर डिस्पेंसरी के पास नंदेश्वर महादेव मंदिर में युवक का शव मिला था। युवक की हत्या सिर कुचलकर की गई थी। एसीपी प्रमोद स्वामी ने बताया कि 10 मई को अजमेर रोड पर नंदेश्वर महादेव मंदिर में एक युवक की लाश मिली। मौके पर जाकर देखा गया तो सामने आया कि किसी भारी वस्तु से युवक की सिर कुचलकर हत्या की गई है। उसके बाद उसके प्राइवेट पार्ट में सरिया तक डाल दिया गया था।
फिर प्राइवेट पार्ट में डाल दी स्टील की रॉड
मृतक की पहचान बूंदी निवासी पप्पू सैनी के रूप में हुई। पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज देखे तो सामने आया कि मृतक पप्पू सिंह से मान सिंह और महेंद्र मिले थे। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी मान सिंह ने महेंद्र और सुनील के साथ मिलकर हत्या करना कबूल किया। पूछताछ में मान सिंह ने बताया कि उन्हें नशा करने के लिए रुपये की जरुरत थी। सुनील और महेंद्र के साथ मिलकर उसे मारने की योजना बनाई। मंदिर में सो रहे मानसिंह के सिर पर पत्थर से हमला किया। उसके बाद स्टील की रॉड लेकर मृतक के प्राइवेट पार्ट में घुसा दी। मृतक के पास मिले मोबाइल को लेकर के वहां से फरार हो गए।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author