December 8, 2022

भारत-चीन युद्ध की याद में मनाया जाता है National Solidarity Day, जानें इस दिन का महत्व

wp-header-logo-292.png

National Solidarity Day 2022: भारत (India) और चीन (China) के बीच युद्ध हुआ था, इसे भारत-चीन युद्ध 1962 (Indo-China war 1962) कहा गया। यह युद्ध 20 अक्टूबर 1962 में शुरू हुआ था, इसे कश्मीर सीमा मुद्दे के लिए लड़ा गया था। युद्ध एक महीने चला और 21 नवंबर 1962 में समाप्त हो गया। उस युद्ध में भारत चीन से हार गया और कई भारतीय सैनिकों को पकड़ लिया गया। चीन ने कश्मीर में कुछ हिस्सों पर कब्जा कर लिया, जिसे सीओके- चीन अधिकृत कश्मीर (COK – China Occupied Kashmir) नाम दिया गया। जिसके बाद एक संधि पर हस्ताक्षर किए गए कि भारत सीओके में प्रवेश नहीं करेगा और यह हिस्सा चीन का है।
युद्ध के बाद भारतीय सेना में कई सारे बदलाव आये और भविष्य में इसी तरह के संघर्ष के लिए सेना को तैयार रहने की जरुरत महसूस की गई। इस युद्ध से तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर दबाव आया जिन्हें भारत पर चीनी हमले की आशंका में असफल रहने के लिए जिम्मेदार के रूप में देखा जा रहा था। भारतीयों में देशभक्ति की भारी लहर उठनी शुरू हो गयी और युद्ध में शहीद हुए भारतीय सैनिकों के लिए कई स्मारक बनाये गए। इस युद्ध में सबसे अहम सबक अपने देश की सेना को मजबूत बनाने की जरूरत और चीन के साथ नेहरू की “भाईचारे” वाली विदेश नीति में बदलाव करना (Why We Celebrate National Solidarity Day) था।
National Solidarity Day: इतिहास (History)
1966 में भारतीय प्रधनमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) जो की पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) की बेटी हैं, उनके द्वारा गठित की गई समिति ने 20 अक्टूबर के युद्ध को याद रखने के लिए “राष्ट्रीय एकजुटता दिवस” ​​​​(National Solidarity Day) के रूप में समर्पित करने का फैसला किया, इस दिन युद्ध में भाग लेने वाले सैनिकों का सम्मान किया जाता है और उनकी शहादत के लिए उनके जज्बे को सलाम किया जाता है।
National Solidarity Day: महत्व (Significance)
यह दिन युद्ध वीरता, सैनिकों के परिवारों और रक्षा सशस्त्र बलों के हर जवान को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है। यह हमारा कर्तव्य है कि हम राष्ट्र के लिए खड़े हों और इस राष्ट्रीय एकजुटता दिवस पर हमारे उन सैनिकों को सलाम करें और सम्मान दें जो हमारे देश और हमारी रक्षा करते हैं। बता दें कि सभी देश एक ही कारण से राष्ट्रीय एकता दिवस नहीं मना सकते हैं, कुछ देश अपनी राजनीतिक सफलता और कुछ महत्वपूर्ण राजनीतिक निर्णयों के लिए जश्न मनाते हैं। कुछ देश अपनी सैन्य सफलता के लिए राष्ट्रीय एकजुटता दिवस (National Solidarity Day) मनाते हैं और एक विशेष युद्ध में अपने सैनिकों की शहादत का सम्मान भी करते हैं। भारत में यह दिन सैन्य उद्देश्यों के लिए मनाया जाता है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author