September 25, 2022

Knowledge News : आखिर क्यों सोते समय पेड़ से नहीं गिरते पक्षी, जानिए इसके पीछे का साइंस

wp-header-logo-447.png

जब भी हम सोते हैं, तो उसके कुछ देर बाद ही हम गहरी नींद (Sleep) में चले जाते हैं। यानी हमें नींद आने के बाद बहुत ज्यादा होश नहीं रहता। अक्सर ऐसा होता है कि बेड अगर थोड़ा छोटा हो तो इंसान को नींद में करवट लेते समय गिरने का खतरा बना रहता है। यहां तक कि हो सकता है हममें से कुछ लोग ऐसे होंगे भी जो कभी न कभी अपने बिस्तर से नीचे जरुर गिरे होंगे। जब सोते समय इंसान खुद को संतुलित नहीं रख पाता, तो जरा सोचिए पेड़ पर बैठे पक्षियों के साथ ऐसा क्यों नहीं होता। क्यों पक्षी सोते (Birds Sleeping) समय पेड़ से नीचे नहीं गिरते। क्या उन्हें गहरी नींद नहीं आती या फिर वो सोते ही नहीं हैं। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि आखिर ऐसा क्यों होता है।
कम समय के लिए सोते हैं पक्षी
इसके लिए आपको सबसे पहले ये जान लेना जरुरी है कि पक्षी हम इंसानों की तरह नहीं सोते और न ही ये हमारे बराबर नींद लेते हैं। जी हां, पक्षी बहुत छोटी-छोटी नींद लेते हैं। ऐसा कहा जाता है कि पक्षियों के लिए गहरी नींद में जाने का समय सिर्फ 10 सेकंड तक का होता है। इसके साथ ही आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पक्षी एक आंख खोलकर भी नींद ले सकते हैं। पक्षियों के अंदर ऐसी पॉवर होती है जिनके जरिए वो सोते समय खुद को एक्टिव रख सकते हैं।
पक्षियों के नींद लेने की प्रक्रिया अलग
पक्षी अपने दिमाग को इस तरह से कंट्रोल कर लेते हैं कि सोने के दौरान उनके दिमाग का एक भाग (लेफ्ट हेमिस्फियर या राइट हेमिस्फियर) हमेशा एक्टिव रहता है। पक्षी के जिस साइड का दिमाग एक्टिव रहता है, उसके उल्टे साइड की ​आंख खुली रहती है। इस तरह से एक तरफ आंख एक्टिव और दूसरी ओर दिमाग एक्टिव रहता है। यही वजह है कि वो सोते समय खुद को शिकारी से बचा पाने में भी सक्षम होते हैं।
इस वजह से भी नहीं गिरते पक्षी
इन सबके साथ एक वजह यह भी है कि पक्षियों के पैरों के डिजाइन इस तरह से बने होते हैं, जो पेड़ की डालियों पर टिके रहने में सक्षम रहते हैं। जब पक्षी सोने के लिए पेड़ की डाली पर बैठते हैं तो उनके पंजों की बनावट डाली पर अच्छी खासी ग्रिप बनाने में मदद करती है। यह कहना गलत नहीं होगा कि ये बनावट एक तरह से पक्षियों के लिए लॉक का काम करती हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author