December 5, 2022

Child Alert: कोरोना और मंकीपॉक्स के बीच अब भारत में टमाटर फ्लू के केरल-ओडिशा में दिखे मामले, ये हैं लक्षण

wp-header-logo-423.png

भारत में कोरोना की चौथी लहर और मंकीपॉक्स मामलों के बीच अब डॉक्टरों ने एक नई बीमारी को लेकर चिंता जताई है, जो तेजी से फैल रही है। इस बीमारी को टमाटर फ्लू के नाम से जानते हैं। टमाटर फ्लू या टोमैटो फ्लू (Tomato Flu) आम तौर पर हाथ, पैर और मुंह से संबंधित बीमारी है और केरल और ओडिशा में इसके नए मामले पाए गए हैं।

लैंसेट रेस्पिरेटरी जनर्ल की रिपोर्ट के मुताबिक, टमाटर फ्लू का पहला मामला केरल के कोल्लम में पाया गया है और 6 मई से अब तक 82 बच्चे इसकी चपेट में आ चुकी हैं। लैंसेट की रिपोर्ट में कहा गया है कि इन बच्चों की उम्र 5 साल तक है।

लैंसेट ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जिस तरह से हम कोरोना की चौथी लहर के आपातकालीन स्थिति से निपट रहे हैं, वैसे ही एक नया वायरस टमाटर वायरस या टोमैटो फीवर से नाम से जानते हैं, भारत के केरल राज्य में 5 साल तक के बच्चों में ये बीमारी देखने को मिल रही है।

टोमैटो फ्लू क्या है (What is Tomato Flu)
टमाटर फ्लू या टोमैटो फ्लू एक तरह की वायरल बीमारी है। इसमें शरीर के कई हिस्सों पर छाले हो जाते हैं, जो अमूमन पैर, हाथ और मुंह पर दिखाई देते हैं। ज्यादातर इस बीमारी की चपेट में बच्चे आ रहे हैं।

क्या हैं टोमैटो फ्लू के लक्षण (What are the symptoms of tomato flu)

टोमैटो फ्लू में तेज बुखार आना, बड़े छाले या फफोले होना, जो लाल रंग के होते हैं। त्वचा में खराश, शरीर में दर्द और जोड़ों में सूजन, मतली, उल्टी, दस्त, बुखार आना है। चिकुनगुनिया बीमारी में जैसे लक्षण होते हैं, ज्यादातक वैसे ही लक्षण टमाटर फ्लू में भी होते हैं। फिलहाल, अभी तक इस बीमारी की कोई दवा मौजूद नहीं है। लेकिन डॉक्टर इसको लेकर काम कर रहे हैं। ये एक स्वत: सीमित बीमारी है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author