August 18, 2022

International Yoga Day 2022: स्वस्थ शरीर के लिए जरूरी हैं यह योगासन, एक बार अपने जीवन में आजमा कर देखें

wp-header-logo-240.png

योगाभ्यास से होने वाले लाभों को हम तभी प्राप्त कर सकते हैं, जब इसे सही विधि से करेंगे। इसके साथ ही योगाभ्यास के लिए निर्धारित सावधानियों का भी ध्यान रखना आवश्यक है। इस बारे में आपके लिए बहुत उपयोगी जानकारियां।
योग एक ऐसी शारीरिक प्रक्रिया है, जिससे हर उम्र के स्त्री-पुरुष लाभ उठा सकते हैं। आज के दौर में सिर्फ बड़ी उम्र के लोग ही नहीं विद्यार्थी भी तनाव के शिकार हो जाते हैं। कहीं देर तक स्कूल में डेस्क पर बैठे रहना उन्हें तकलीफ देता है तो कहीं कंप्यूटर मॉनिटर या मोबाइल स्क्रीन पर स्टडी करने से उन्हें परेशानी महसूस होती है। स्कूल से आने के बाद होम वर्क का बोझ और पैरेंट्स के द्वारा लगातार आगे बढ़ने और फर्स्ट आने का दबाव, विद्यार्थियों को परेशान किए रहता है। ऐसी समस्याओं से मुक्ति दिलाने में योगाभ्यास बहुत प्रभावी है। खासतौर पर तनाव, सिरदर्द, अनिद्रा और बेचैनी आदि को दूर करने में योग काफी प्रभावी सिद्ध होता है। योग को नियमित रूप से करने के कई फायदे हैं, लेकिन इसे सही तरीके से करना आवश्यक है। योग करने से पहले, अभ्यास के दौरान और उसके बाद कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए, जिससे इसका पूरा लाभ प्राप्त हो सके। तो आइए जानते हैं, इन सावधानियों के बारे में-
इनका रखें ध्यान
– योग करने से पहले इसकी तैयारी कर लें। इसके लिए खुद को वार्म अप करें। इसके लिए कुछ सरल शारीरिक सक्रियता वाली गतिविधियां करें।
– हमेशा ऐसे योगासन का चुनाव करें, जिसे आप सही तरीके से कर सकें।
– ऐसा जरूरी नहीं कि आप जो योगासन कर रहे हैं, वही पूर्ण और पर्याप्त हो। आप अपनी सुविधा, आवश्यकता और रुचि के अनुसार योग का चयन कर सकते हैं।
– सभी योगासन का सीक्वैंस जरूर करें यानी, किसी भी योगासन को शरीर के दोनों हिस्से से करें, तभी योगासन का चक्र पूरा होता है।
– हर पोज में आवश्यकतानुसार सांस लेने, छोड़ने की गति का ध्यान रखें या सामान्य गति से सांस लेते रहें।
– किसी भी योगासन का अभ्यास खाली पेट ही करें।
– योग करते समय ढीले और आरामदायक कपड़े ही पहनें।
– खुली और शांत जगह पर ही योगाभ्यास करने की कोशिश करें।
– बच्चों के लिए योगासन को मजेदार बनाने के लिए म्यूजिक का सहारा लिया जा सकता है।
– योगाभ्यास के लिए सबसे बेहतर समय सुबह होता है, लेकिन इसका अभ्यास शाम को भी किया जा सकता है।
– योगाभ्यास कभी भी कठोर सतह पर न करें। हमेशा चटाई, कंबल या योग मैट बिछाकर ही योगाभ्यास करें।
– योग का अभ्यास करने से पहले स्नान करना अच्छा होता है।
– योग का अभ्यास जल्दबाजी में न करें। अगर आपको थकावट महसूस हो रही है तो योगाभ्यास करने से बचें।
– योगभ्यास प्रारंभ करने से पहले अपने योग टीचर को अपनी बीमारियों के बारे में अवश्य बताएं क्योंकि कुछ पुरानी बीमारियों और शारीरिक समस्याओं में योग वर्जित होता है।
– शुरुआती दौर में योग गुरु के निर्देशानुसार ही योग करें। योगाभ्यास का सही तरीका सीख लेने के बाद घर पर ही योगाभ्यास करना बेहतर होगा।
(योग प्रशिक्षक आनंदजी से बातचीत के पर आधारित)
ए. कुमार
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author