August 8, 2022

बोलेरो और क्रेटा गाड़ी में भीषण सड़क हादसा, एक साथ बुझ गए 5 घरों के चिराग

wp-header-logo-368.png

जयपुर। प्रदेश के भरतपुर जिले में नई कार लेकर घूमने निकले तीन सगे भाइयों समेत पांच युवकों की  में दर्दनाक मौत हो गई। हादसे में कार के परखच्चे उड़ गये। इनमें से एक युवक की आठ दिन पहले ही शादी हुई थी। हादसे की सूचना मिलते ही मृतकों के घरों में कोहराम मच गया। पुलिस ने शवों का पोस्टमार्टम करवाकर उन्हें परिजनों को सौंप दिया है। हादसे में युवकों की कार से टकराने वाली बोलेरो में सवार चार लोग घायल हो गये। इसके बाद पहुंची पुलिस ने घायलों को पहाड़ी के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान दो नाबालिग सहित पांचों भाइयों की मौत हो गई।
वापस घर लौट रहे थे
मृतक के परिजनों ने बताया कि वासिम (18), आशिक (17), अरबाज (22), परवेज (16) और आलम (19) बुधवार शाम करीब 7 बजे बाजार के लिए खंडेवला से निकले थे। घर में 8 दिन पहले शादी थी। इसलिए सभी भाई इसमें शामिल होने आए थे। देर रात पहाड़ी कस्बे का बाजार घूम अपने गांव खंडेवला आ रहे थे। तभी बरखेड़ा गांव के पास एक बोलेरो ने बच्चों की कार को पीछे से टक्कर मार दी।
9 लोग घायल
हादसे में 9 लोग घायल हो गए। जिसमें सावलेर निवासी उस्मान पुत्र छोटा, अब्बास पुत्र नसरू, खंडेवला निवासी वसीम पुत्र जमशेद, परवेज पुत्र बसीर, इम्तियाज पुत्र जमशेद, आसिव पुत्र जमशेद, सोलाका निवासी आलम पुत्र तैयब, इस्माईल पुत्र आसिफ, अलवर किशनगढ़ वास निवासी आशिक पुत्र जमील घायल हो गए। जिनको पहाड़ी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।
कार के उड़ गए परखच्चे
टक्कर इतनी जोरदार थी की वेन्यू कार के परखच्चे उड़ गए। दुर्घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे और घायलों को गाड़ी से बाहर निकाला। मिली जानकारी के अनुसार देर रात को खंडेवला निवासी तीन युवक और अलवर के किशनगढ़ बास निवासी एक युवक के साथ गांव सोलाका आए हुए थे। यहां से लौटते वक्त वह सोलाका निवासी एक अन्य युवक को भी अपने साथ लेकर गांव खंडेवला लौट रहे थे। इसी दौरान पहाड़ी गोपालगढ़ मार्ग पर उनकी कार को एक अनियंत्रित गति बोलेरो गाड़ी ने टक्कर मार दी।
वसीम की आठ दिन पहले ही शादी हुई थी
परिजनों ने बताया की वासिम शादी 8 दिन पहले हुई थी। शादी की वजह से घर में सभी रिश्तेदार आए हुए थे। शादी में ही शामिल होने के लिए आशिक और आलम भी आये हुए थे। सभी की आपस में अच्छी बनती थी। वह साथ ही घूमते थे। परिजनों ने 8 दिन पहले ही शादी के लिए नई कार खरीदी थी। इसमें सभी कस्बे के बाजार गए थे।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author