January 29, 2023

Knowledge News : Republic Day मानाने के लिए आखिर क्यों चुनी गई 26 जनवरी की तारीख, जानिए इसके पीछे की कहानी

wp-header-logo-311.png

Republic Day 2023 : जल्द ही गणतंत्र दिवस (Republic day) आने वाला है। देश में इसको लेकर तैयारियां भी शुरू हो चुकी है। ये तो हम सब जानते हैं कि देशभर में हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। देश इस साल अपना 74वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है। हमेशा की तरह इस बार भी गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास और धूमधाम से मनाया जाएगा। इस दिन लोग तिरंगा फहराने के साथ 26 जनवरी की परेड का भी आनंद उठाते हैं। इन सबके साथ क्या आप ये जानते हैं कि 26 जनवरी को ही गणतंत्र दिवस के रूप में क्यों चुना गया। अगर नहीं तो चलिए आज हम आपको बताएंगे कि आखिर देश को गणतंत्र घोषित करने के लिए 26 जनवरी की तारीख को ही क्यों चुना गया।
क्यों 26 जनवरी को लागू हुआ संविधान
हम जानते हैं कि गणतंत्र दिवस इसलिए मनाया जाता है क्योंकि इस दिन देश का संविधान लागू किया गया था। साल 1950 में देश को एक गणतंत्र राष्ट्र घोषित कर दिया गया था। इसी दिन को चिन्हित करने के लिए हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। ये दिन भारतीय नागरिकों की लोकतांत्रिक रूप से अपनी सरकार चुनने की शक्ति को भी दर्शाता है। 26 जनवरी को संविधान लागू करने के पीछे एक खास मकसद था, जिसे शायद ही ज्यादा लोग जानते होंगे।
पहले इस दिन मनाया जाता था स्वतंत्रता दिवस
दरअसल, हमारे देश ने ब्रिटिश शासन से 15 अगस्त 1947 में स्वतंत्रता प्राप्त की थी। लेकिन बहुत ही कम लोग यह जानते होंगे कि आजादी से पहले तक 26 जनवरी को ही स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता था। 31 दिसंबर 1929 को कांग्रेस के लाहौर अधिवेशन में पंडित जवाहरलाल नेहरू की अध्यक्षता में एक प्रस्ताव पारित हुआ। इस प्रस्ताव में यह मांग की गई थी कि अगर ब्रिटिश सरकार ने 26 जनवरी 1930 तक भारत को उपनिवेश यानि (डोमीनियन स्टेट) का दर्जा नहीं दिया तो भारत को पूर्ण रूप से स्वतंत्र घोषित कर दिया जाएगा। उसी के बाद 26 जनवरी 1930 को पहली बार स्वतंत्रता दिवस मनाया गया था और इसी दिन नेहरू ने तिरंगा भी फहराया था।
1950 में मनाया गया पहला गणतंत्र दिवस
फिर जब 1947 में आजादी मिली तो उसके बाद 15 अगस्त को आधिकारिक रूप से स्वतंत्रता दिवस घोषित कर दिया गया। वहीं 26 जनवरी 1930 को पूर्ण स्वराज का प्रस्ताव लागू होने की वजह से इस तिथि को महत्व देने के लिए और संविधान लागू करने के लिए इस खास तारीख 26 जनवरी को चुना गया। 26 नवंबर 1949 में भारत का संविधान पूरी तरह बनकर तैयार हो चुका था। लेकिन उस खास तारीख की महत्ता को देखते हुए इसी दिन साल 1950 में संविधान लागू किया गया और देश को गणतंत्र घोषित किया गया। तभी पहली बार आजाद भारत ने अपना गणतंत्र दिवस मनाया था। उस दिन से लेकर आज तक हर साल 26 जनवरी के दिन गणतंत्र दिवस मनाया जाता है।
© Copyrights 2023. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author