September 25, 2022

Hand and Foot Sensation: हाथ-पैरों में सुन्नपन और झनझनाहट करते हैं महसूस तो ये है इस गंभीर बीमारी के लक्षण

wp-header-logo-414.png

Hand and Foot Sensation: हमारा नर्वस सिस्टम (Nervous System) हमारे शरीर के सबसे संवेदनशील हिस्सों में से एक है, नर्वस सिस्टम पूरे शरीर से मस्तिष्क तक संकेत भेजने का काम करती है और शरीर को चलने या काम करने में मदद करती है। हालांकि, अगर नसों में से कोई एक क्षतिग्रस्त हो जाती है, तो इससे हमारे शरीर में सुन्नता, झुनझुनी और अन्य एबनॉर्मल सेंसेशंस होती हैं। इन छोटे-छोटे संकेतों को समझना बेहद जरूरी है क्योंकि ये आपके पूरे शरीर के कामकाज के लिए जिम्मेदार होते हैं। यदि एक या अधिक नसें क्षतिग्रस्त हो जाती हैं या निष्क्रिय हो जाती हैं, तो इस स्थिति को न्यूरोपैथी के रूप में जाना जाता है। न्यूरोपैथी (Neuropathy) मांसपेशियों में कमजोरी और गंभीर बीमारी का कारण भी बन सकता है। अगर आपको भी बॉडी में कहीं भी झुनझुनी या सुई चुभने जैसी सनसनी महसूस होती है, तो यह न्यूरोपैथी का संकेत हो सकता है। आज की इस खबर में हम आपको इसी बीमारी के बारे में कुछ अहम बाते बताने वाले हैं, तो चलिए शुरू करते हैं।
न्यूरोपैथी के प्रकार (Types Of Neuropathy)

क्योंकि शरीर में विभिन्न नसों के अलग-अलग कार्य होते हैं, इसलिए प्रभावित नसें इस बीमारी की स्थिति और उसके टाइप को निर्धारित करती है।

बॉडी में सेंसरी नसें तापमान, दर्द, कंपन या स्पर्श जैसे संकेतों को महसूस करने में मदद करती हैं। यह हमारे शरीर की पांचों इंद्रियों के साथ काम करती हैं और आवश्यक कार्यों को करने के लिए दीमाग से शरीर बाकी अंगों को संकेत भेजती है।
ये नसें मांसपेशियों तक संदेश पहुंचाती हैं और उन्हें काम करने में मदद करते हैं।
ये नसें उन कार्यों के लिए जिम्मेदार होती हैं जो किसी व्यक्ति के सीधे नियंत्रण में नहीं होते हैं। यह ब्लड सर्कुलेशन, पसीना, हृदय गति, पाचन और मूत्राशय के कार्य को निर्धारित करता है।
जानिए न्यूरोपैथी बीमारी के लक्षण क्या हैं:-

पैरों या हाथों में सुन्नता, चुभन या झुनझुनी (numbness, prickling, or tingling) का बार-बार महसूस होना।
तेज दर्द जो चुभने, थ्रोबिंग या जलन (Jabbing, throbbing or burning) में बदल सकता है।
त्वचा में अत्यधिक संवेदनशीलता (Extreme sensitivity in the skin)
पैरों और हाथों में असामान्य दर्द (Unusual pain in the feet and hands)
शरीर को संतुलित करने में असमर्थ (body unable to balance)
मांसपेशी में कमज़ोरी (muscle weakness)
नग्न होने पर भी स्किन एक्स्ट्रा कवर होने का अहसास (Feeling of skin being extra covered even when naked)
पैरालिसिस (paralysis)
अत्यधिक पसीना आना (sweating profusely)
डॉक्टर को कब दिखाना है?
अगर आपको इनमे से कोई एक या ज्यादा लक्षण अपने अंदर दीखते हैं, तो आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। आपको इन संकेतों को हल्के में नहीं लेना चाहिए, क्योंकि वे पैरालिसिस का कारण बन सकते हैं और इसके परिणामस्वरूप शरीर में अन्य गंभीर स्वास्थ्य स्थिति हो सकती है। सही परामर्श और दवाओं से न्यूरोपैथी का इलाज किया जा सकता है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author