November 28, 2022

Gratuity Rules 2022: नौकरी वालों को मोदी सरकार का तोहफा, अब 1 साल नौकरी पर भी मिलेगी ग्रेच्युटी

wp-header-logo-416.png

Gratuity Payment Rules 2022: सरकार ने नौकरी पेशा करने वाले कर्मचारियों (employees) को बड़ी खुशखबरी दी हैं। केंद्र सरकार जल्द ही कुछ लेबर कोड्स (labor codes) को लागू करने जा रही हैं, जिसके बाद कर्मचारियों को कई तरह के फायदें मिलेंगे। नए लेबर कोड्स के आने से कर्मचारियों के सैलरी, छुट्टी, प्रोविडेंट फंड और ग्रेच्युटी (Gratuity) में बदलाव देखने को मिलेंगे।
लोकसभा में श्रम राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने लिखित जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र सरकार श्रम सुधार के लिए 4 लेबर कोड को लागू करने की तैयारी में हैं। उन्होंने कहा कि कई राज्यों ने अलग-अलग लेबर कोड्स पर सहमति भी दे दी है। सरकार जल्द ही इन्हें लागू कर सकती हैं।
ग्रेच्युटी के नियमों में होगा बदलाव
नए लेबर कोड्स के लागू होने के बाद से सबसे बड़ा बदलाव ग्रेच्युटी पर देखने को मिलेगा। वर्तमान के नियमों के अनुसार, कर्मचारी को किसी संस्थान में 5 साल पूरे होने के बाद ही ग्रेच्युटी मिलती है। लेकिन अब लोकसभा में दाखिल ड्राफ्ट कॉपी में लिखा गया है कि अगर कोई भी कर्मचारी किसी जगह एक साल तक काम करता है तो वह ग्रेच्युटी (Gratuity) का हकदार हो जाएगा। सरकार की ओर से अनुबंध पर काम करने वाले कर्मचारियों के लिए यह फैसला लिया गया है।
क्या है ग्रेच्युटी (what is gratuity)
सोशल सिक्योरिटी बिल, 2020 के चैप्टर 5 दी गई जानकारी के अनुसार, ग्रेच्युटी किसी भी कंपनी के द्वारा कर्मचारी को दिया जाने वाला गिफ्ट है। यह एक निर्धारित फॉर्मूले के तहत दिया जाता है। उदाहरण के लिए अगर किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 20 हजार है और उसने कंपनी में 10 साल काम किया है तो उसे 50 हजार ग्रेच्युटी मिलती है। साथ ही अगर कर्मचारी को 6 हजार रुपये डियरनेस अलाउंस मिलता है तो ग्रेच्युटी का कैलकुलेशन 26 हजार के आधार पर होगा। बता दें कि ग्रेज्युटी का कैलकुलेशन केवल वर्किंग डे (26) के आधार पर ही होता है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author