June 4, 2023

Surya Grahan 2023:साल का पहला सूर्य ग्रहण इन 4 राशियों के लिए रहेगा बेहद शुभ, देखें आपकी राशि शामिल है या नहीं

wp-header-logo-736.png

Surya Grahan 2023: धार्मिक दृष्टि से सूर्य ग्रहण को शुभ घटना नहीं माना जाता है क्योंकि यह वह समय होता है जब सूर्य पर राहु का प्रभाव बढ़ जाता है और सूर्य पीड़ित हो जाता है. ग्रहण की वैज्ञानिक ही नहीं धार्मिक मान्यता भी है. साल का पहला सूर्य ग्रहण 20 अप्रैल 2023, गुरुवार को लगेगा. इस सूर्य ग्रहण की अवधि सुबह 07 बजकर 04 मिनट से दोपहर 12 बजकर 29 मिनट तक रहेगी. यह सूर्य ग्रहण मेष राशि और अश्विनी नक्षत्र में लगने जा रहा है. मेष राशि में यह सूर्य ग्रहण 19 साल बाद लगने जा रहा है. आइए जानते हैं किन राशियों के लिए साल 2023 का पहला सूर्य ग्रहण शुभ रहने वाला है.

इन 4 राशियों के लिए शुभ है सूर्य ग्रहण

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए यह सूर्य ग्रहण बहुत ही भाग्यशाली है. इस समय आर्थिक स्थिति शुभ रहेगी. साथ ही आय के क्षेत्र में भी वृद्धि होगी. हर क्षेत्र में लाभ होगा. कार्यक्षेत्र में प्रगति होगी. नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है. यह सूर्य ग्रहण आपके लिए बहुत ही लाभदायक सिद्ध होगा. व्यापार में भी लाभ होगा. नए कार्यों की शुरुआत कर सकते हैं.

मिथुन

मिथुन राशि वालों की आर्थिक परेशानियां खत्म होंगी. व्यापार से लाभ होगा. कार्यक्षेत्र में प्रगति प्राप्त होगी. परिवार का सहयोग प्राप्त होगा. लेकिन जल्दबाजी में कोई फैसला न लें. इस राशि के जातकों के लिए आने वाला सूर्य ग्रहण अच्छा साबित होगा. विवाह से संबंधी परेशानियां भी दूर होंगी.

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए यह सूर्य ग्रहण बहुत ही अच्छा साबित होने वाला है. पिछले निवेशों से आपको लाभ मिल सकता है. आप अपने शत्रुओं पर काबू पाने और सामाजिक प्रतिष्ठा प्राप्त करने में सफल होंगे.

मीन

मीन राशि के लोगों का वरिष्ठ लोगों के साथ संबंध विकसित होगा जो समाज के प्रभावशाली लोग होंगे. इससे आप जीवन में आगे बढ़ पाएंगे और आपकी आमदनी के रास्ते खुलेंगे. आय में वृद्धि और लाभ मिलेंगे.

कहां-कहां दिखेगा यह सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2023 where to watch)

यह सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा. यह सूर्य ग्रहण कंबोडिया, चीन, अमेरिका, माइक्रोनेशिया, मलेशिया, फिजी, जापान, समोआ, सोलोमन, बरुनी, सिंगापुर, थाईलैंड, अंटार्कटिका, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, वियतनाम, ताइवान, पापुआ न्यू गिनी, इंडोनेशिया, फिलीपींस में दिखाई देगा. दक्षिण हिंद महासागर और दक्षिण प्रशांत महासागर जैसी जगहों पर ही दिखाई देगा.

नोट- (ऊपर दी गई जानकारी सामान्य जानकारी के आधार पर प्रस्तुत की गई है, prabhatkhabar.com इस पर किसी प्रकार का दावा नहीं करता है.)

source