July 1, 2022

Health Tips: अनसुलझे आघात के कारण रहते हैं परेशान, इन टिप्स की मदद से मिलेगी राहत

wp-header-logo-348.png

Health Tips: कुछ आघात (Trauma) ऐसे होते हैं जो कभी सुलझ नहीं पाते और हमें हमेशा सताते रहते हैं। ये आघात चीजों के प्रति हमारा दृष्टिकोण बदल देते हैं और हमारे दिमाग में डर की स्थिती पैदा कर देता है। यह हमारे काम करने, सोचने, व्यवहार करने और खुद के साथ व्यवहार करने के तरीके पर भी बड़ा प्रभाव डालता है। जब सालों पुराने अनसुलझे आघात (Unresolved Trauma) हमारे दिमाग में जमा हो जाते हैं, तो ये हमें बदल देते हैं और हमें दुख पहुंचाते हुए हमारे मन की शांति छीन लेते हैं। जब हम इन आघातों से उबरने की सोचते हैं तो एक नए व्यक्तित्व की कल्पना करने लगते हैं, बल्कि हमेशा ऐसा नहीं होता है। पुराने आघात हमें बदल देते हैं इसलिए कभी-कभी हमें पुराने शरीर में वापस जानें के बारे में सोचना चाहिए। यहां हम आपको पुराने आघातों से उबरने के कुछ टिप्स बताएंगे…
माता-पिता को इंसान के रूप में देखें
हम में से कई लोग भावनात्मक रूप से ऐसे घरों से आते हैं जहां लड़ाई-झगड़े आए दिन की समस्या होती है। हमें अपने माता-पिता को ईश्वर के समान और सुपर ह्यूमन के रूप में देखना भी सिखाया जाता है। लेकिन अगर हम उन्हें केवल अपने जैसे इंसान के रूप में देखना शुरू कर दें और यह जान लें कि उन्हें भी गलतियां करने की अनुमति है, तो इससे हम ये जान पाएंगे कि वे उस समय अपना बेस्ट दे रहे थे।
नर्वस सिस्टम को रेगुलेट करें
शरीर के नर्वस सिस्टम को पर्याप्त नींद, स्वस्थ रहने के लिए फ्लेक्सिबिलिटी की आवश्यकता होती है। शरीर को अच्छा महसूस कराने के लिए प्रकृति के साथ समय बिताना और धूप भी जरूरी है।
शरीर में वापसी
अनसुलझे आघात हमें ज्यादातर समय अपने दिमाग के अंदर ही रहने देते हैं। कभी-कभी हमारी वर्तमान उपस्थिति को महसूस करना और शरीर में वापस आना महत्वपूर्ण होता है। अपने आप को एक सुरक्षित शरीर में उपस्थित होने का अनुभव इसके उपचार में मदद करता है।
स्वयं के प्रति करुणामय होना
विकास की जिस यात्रा से हम गुजरते हैं, उसके लिए हमें स्वयं के प्रति दयालु होने की आवश्यकता होती है। ये जरूरी है कि हम अपने चियरलीडर खुद हों और खुद के प्रति नॉन-जजमेंटल हों।
सेल्फ केयर
आघात हमें सिखाता है कि हम महत्वपूर्ण या देखभाल के योग्य नहीं हैं। इससे उबरने के लिए सेल्फ केयर दिनचर्या का पालन करना महत्वपूर्ण है जहां हम एक-दूसरे से वादे कर सकते हैं और खुद को खुश महसूस करने के प्रयास कर सकते हैं।
जवाबदेह होना
जीवन की प्रत्येक स्थिति में हम जो भूमिका निभाते हैं उसे देखना और उसके अनुसार जिम्मेदारियां लेना महत्वपूर्ण है। जब चीजें हमारे लिए असहज होने लगती हैं तो विकसित होना भी ठीक है।
टिप्स: यहां दी गई जानकारी सामान्य है, इसे विशेषज्ञ की सलाह के रूप में न लें।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source