May 21, 2022

केवल 5 मिनट का मेडिटेशन दूर करेगा कई बीमारियां, नहीं होगी तनाव जैसी कोई भी समस्या

wp-header-logo-319.png

केवल 5 मिनट का मेडिटेशन दूर करेगा कई बीमारियां, नहीं होगी तनाव जैसी कोई भी समस्या
आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में इंसान अपना मानसिक सुकून खोता जा रहा है। अस्त-वस्त दिनचर्या (Busy Life) वो इतना उलझा रहता है कि उसकी पूरी जिंदगी तनाव में गुजर रही है। इसका एक बेहद ही असरदारक इलाज है मेडिटेशन (meditation)। मेडिटेशन ही वो रास्ता है जिससे आप अपनी जीवनशैली को अच्छा और तनावरहित बना सकते हैं।
मानसिक तौर पर आरामदायक
कई बीमारियों का इलाज मेडिटेशन ही है। ये दिमाग को सुकून पहुंचाता है और इसका असर सीधे हमारे दिल और मस्तिष्क पर पड़ता है। मेडिटेशन करने के दौरान हमारे दिमाग में कई बदलाव होते हैं, हमारा मन एक जगह ठहरता है। कई रिसर्च में खुलासा हुआ है कि ध्यान लगाने से दिमाग पर कई तरह असर पड़ता है जो कि किसी भी इंसान को मानसिक तौर पर आरामदायक महसूस कराता है।
मेडिटेशन से करें गुस्से पर काबू
वहीं एक स्टडी में सामने आया है कि ध्यान लगाने से दिल पर अच्छा असर होता है। इससे रक्तचाप सामान्य होता है, साथ ही इंसान चाहे तो ध्यान लगाने से वो अपनी ज्ञानइंद्रियों पर भी काबू पा सकता है। मेडिटेशन में काफी ताकत होती है, ये आपके ना सिर्फ दिल बल्कि दिमाग को भी स्थिर रखने में मदद करता है। आज कल के युवाओं में सबसे ज्यादा गुस्सा करने की आदत होती है, इसी मेडिटेशन के जरिए वो अपने गुस्से पर आसानी से काबू पा सकते हैं।
मेडिटेशन को अपनाएं और रहें स्वस्थ्य
इंसानी दिमाग में एक ऐसा हिस्सा भी होता है जो आपकी भावनाओं पर संयम बनाए रखता है। निरंतर ध्यान लगाने से ये हिस्सा कम सक्रिय होता है। इसका नतीजा ये होता है कि आप पूरी तरह से अपने दिमाग पर कंट्रोल कर सकते हैं। कई लोगों को अक्सर बेचैनी, तनाव होता है, मेडिटेशन उनके लिए काफी उपयोगी साबित होता है। कुछ लोगों को पेट से संबंधित बीमारियां होती हैं। कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक ध्यान करना या लगाना इसके लिए काफी फायदेमंद होता है। मेडिटेशन से ही आप अपनी एजिंग के प्रोसेस को कम कर सकते हैं, यही वो प्रक्रिया है जिससे आप हमेशा जंवा रह सकते हैं। नियमित रूप से ध्यान लगाने से आप एंग्जायटी डिसऑर्डर को कम कर सकते हैं। तो अपनी जिंदगी में मेडिटेशन को अपनाएं और स्वस्थ्य रहिए।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source