February 6, 2023

WFI के खिलाफ बजरंग पुनिया संग विनेश-साक्षी ने खोला मोर्चा, बोलीं- सालों से हो रहा वुमेन रेसलर्स का यौन उत्पीड़न

wp-header-logo-272.png

WFI अध्यक्ष के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना देते रेसलर्स। 
रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) अध्यक्ष के खिलाफ भारतीय रेसलर बजरंग पुनिया, विनेश फौगाट और साक्षी मलिक समेत कई रेसलरों ने मोर्चा खोल दिया है। इनका आरोप है कि WFI के प्रेसिडेंट बृजभूषण शरण सिंह न केवल मानसिक रूप से प्रताड़ित करते हैं बल्कि वूमन रेसलर्स का यौन उत्पीड़न भी कर रहे हैं। आरोपों के मुताबिक वूमन रेसलर्स का यौन उत्पीड़न आज या कल नहीं बल्कि सालों से हो रहा है। कई महिला पहलवानों ने इसकी शिकायत भी की, लेकिन कुछ नहीं हुआ।

दिल्ली के जंतर मंतर पर रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) अध्यक्ष के खिलाफ धरना दिया जा रहा है। धरने पर बैठे भारतीय रेसलर बजरंग पुनिया ने कहा कि हम WFI के खिलाफ विरोध दर्ज करा रहे हैं। हम उन नीतियों का विरोध कर रहे हैं, जो कि पहलवानों के हितों के खिलाफ है। उन्होंने स्पष्ट किया कि कई लोग इसे राजनीति से जोड़ेंगे, लेकिन इस मामले का राजनीति से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारी यही चाहते हैं कि फेडरेशन में बदलाव होना चाहिए।
फेडरेशन का काम खिलाड़ियों का साथ देना, उनकी खेल की जरूरतों का ध्यान रखना होता है। कोई समस्या हो तो उसका निदान करना होता है। लेकिन अगर फेडरेशन ही समस्या खड़ी करे तो क्या किया जाए?
अब लड़ना पड़ेगा, हम पीछे नहीं हटेंगे । #BoycottWFIPresident#BotcottWrestlingPresident
रेसलर विनेश ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में हार के बाद WFI के अध्यक्ष ने मुझसे खोटा सिक्का कहा और मानसिक रूप् से प्रताड़ित किया। उन्होंने कहा कि अध्यक्ष की टिप्पणियों के चलते वे तनाव में चली गईं और अपना जीवन समाप्त करने की बात सोचने लगी। उन्होंने कहा कि अगर किसी पहलवान के साथ कुछ भी होता है तो इसकी जिम्मेदारी WFI अध्यक्ष की होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर कोई पानी पी ले तो फेडरेशन नाराज हो जाती है। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यवहार पर रोक लगनी चाहिए।
खिलाड़ी आत्मसम्मान चाहता है और पूरी शिद्दत के साथ ओलंपिक और बड़े खेलो के लिए तैयारी करता है लेकिन अगर फेडरेशन उसका साथ ना दे मनोबल टूट जाता है।लेकिन अब हम नही झुकेंगे।अपने अधिकारों के लिए लड़ेंगे।#BoycottWFIPresident#BoycottWrestlingPresident@PMOIndia @narendramodi @AmitShah
रेसलर्स से मिलने पहुंचे WFI सेक्रेटरी

WFI के असिस्टेंट सेक्रेटरी विनोद तोमर धरने पर बैठे रेसलर्स से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा कि रेसलर्स ने WFI अध्यक्ष को पत्र लिखा था। इसके बाद जानकारी मिली कि रेसलर्स धरने पर बैठे हैं। मैं उनकी मांगों को सुनने पहुंचा हूं। बता दें कि WFI अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह अब तक छह बार लोकसभा सदस्य निर्वाचित हो चुके हैं। वे यूपी के बहराइच जिले की कैसरगंज लोकसभा सीट से भाजपा सांसद हैं।
बृजभूषण बोले- मैंने किसी का उत्पीड़न नहीं किया
WFI के अध्यक्ष बृजभूषण कहा कि मैंने किसी रेसलर का उत्पीड़न नहीं किया है। खिलाड़ियों द्वारा लगाए गए आरोप झूठ है। उन्होंने कहा कि अध्ययन के बाद फेडरेशन ने नियम बनाए और सारे खिलाड़ियों को इसकी जानकारी भी दी गई थी। उन्होंने कहा कि रेसलर्स द्वारा किए गए प्रदर्शन का पता चलते ही दिल्ली आया था। उन्होंने कहा मैंने किस खिलाड़ी का यौन उत्पीड़न नहींं किया है। रेसलर्स द्वारा लगाए गए उत्पीड़न का आरोप सरासर गलत हैं। अगर किसी का उत्पीड़न किया तो सामने आना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि कुछ पहलवान ट्रायल देना नहीं चाहते थे। अगर 10 साल से दिक्कत थी, तो अब तक क्या कर रहे थे। उनका कहना है कि फेडरेशन ने किसी के साथ यौन उत्पीड़न नहीं किया हैं। जब कोई नया नियम लाए जाते हैं, तब दिक्कत आती है। उन्होंने कहा कि यौन उत्पीड़न जैसा कोई मामला नहीं हुआ है, अगर ऐसा हुआ तो मैं फांसी लगा लूंगा।
ये पहलवान बैठे हैं धरने पर

बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, सोमबीर राठी, राहुल मान, सरिता मोर, अमित धनखड़, सुजीत मान, अंशु मलिक, सत्यव्रत कादयान समेत हरियाणा के कई रेसलरों ने धरना दिया है। बजरंग पुनिया ने सरकार से रेसलर्स की मांगों पर ध्यान देने का आग्रह किया है।
© Copyrights 2023. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author