May 25, 2022

बचपन से ही संवारिए बेटियों की पर्सनालिटी, इन 5 चीजों पर दें ध्यान

wp-header-logo-422.png

अगर आप चाहती हैं आपकी बेटी की पर्सनालिटी सही ढंग से डेवलप हो, तो बचपन से ही कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है। इनमें ये 5 अस्पेक्ट्स (Daughter personality Tips) बहुत जरूरी है। फिजिकल, मेंटल, सोशल, कल्चरल और स्पीरिचुअल। हम सभी चाहते हैं कि हमारी बेटियां हमेशा कॉन्फिडेंस (Confident Personality) से भरी नजर आएं। कॉन्फिडेंट लड़कियां ही अपनी लाइफ में सक्सेसफुल होती हैं, सेल्फ डिपेंडेंट बनती हैं। इसके लिए जरूरी है कि हम बचपन से ही अपनी बेटियों को सही परवरिश दें।
इन 5 आस्पेक्ट्स पर दें ध्यान

बेटियों के सही परवरिश के लिए पांच आस्पेक्ट्स पर काम करना जरूरी है। ये पांच आस्पेक्ट्स हैं- फिजिकल, मेंटल, सोशल, कल्चरल और स्पीरिचुअल। इनके हर बिंदु को ध्यान में रखते हुए बेटियों को ग्रूम करने की जरूरत होती है। जब बेटियों को इन पांचों आस्पेक्ट्स पर सही ढंग से ग्रूम किया जाएगा, तो निश्चित रूप से उनका कॉन्फिडेंस लेवल स्ट्रॉन्ग होगा। वे अपनी फील्ड में सक्सेस होंगी।
जब होश संभाले, तभी से उन्हें संवारें

बेटियों की पर्सनालिटी ग्रूमिंग के लिए कोई उम्र सीमा तय नहीं है। वे जब होश संभालने लायक हो जाएं, तभी से उनकी पर्सनालिटी को ग्रूम करना शुरू कर देना चाहिए। ऐसा होने पर ही वे कॉन्फिडेंट और बोल्ड बन सकेंगी। अच्छी पर्सनालिटी की बदौलत वे जो करना चाहती हैं, जो बनना चाहती हैं, वो सब कर सकेंगी।
जो करना चाहती है, करने दें

बेटियों की जिंदगी से जुड़े ज्यादातर फैसले माता-पिता ही लेते हैं। इस तरह बेटियां कभी इंडिपेंडेंट नहीं हो सकेंगी। इसके बजाय आप बेटियों को उनकी इच्छा के मुताबिक सब कुछ करने की आजादी दें। वे जो करना चाहती हैं, उन्हें करने दें। हां, अगर उनसे कोई गलती हो जाए, तो पैरेंट्स उन्हें समझाएं। उसे तर्क के साथ सही-गलत के बीच फर्क बताएं। इस तरह उनकी पर्सनालिटी में डिसीजन लेने की एबिलिटी आएगी। धीरे-धीरे बेटियां सभी इंपॉर्टेंट फैसले खुद लेने लगेंगी।
तब बनेंगी वे रोल मॉडल

जब भी बेटियों को मौका मिला है, उन्होंने कुछ बनकर दिखाया है, दूसरों के लिए रोल मॉडल बनी हैं। जैसे कि हरियाणा के सोनीपत जैसे छोटे शहर से निकलीं मानुषी छिल्लर 2017 में मिस वर्ल्ड बनीं। वह आज लाखों-करोड़ों लड़कियों के लिए प्रेरणास्रोत बन चुकी हैं। सच बात यह है कि अगर बेटियों को बचपन से ही सही दिशा में ग्रूम किया जाए, तो वे दूसरों के लिए रोल मॉडल बन सकती हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source