January 27, 2023

7 बैट्समैन 0 पर आउट, पूरी टीम 25 रनों पर ढेर, इस टीम के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड

wp-header-logo-267.png

रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के इस सीजन में उत्तराखंड ने नागालैंड को 174 रनों से हरा दिया। इस हार के बाद नागालैंड टीम (Nagaland team) के नाम ऐसा खराब रिकॉर्ड दर्ज हो गया, जिसकी किसी ने कभी कल्पना भी नहीं की होगी। दरअसल मैच में नागालैंड (Nagaland) की पूरी टीम 25 रनों के निजी स्कोर पर ऑलआउट हो गई। इस तरह नागालैंड ने अपने नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज करा लिया है। रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के इतिहास में यह छठा सबसे न्यूनतम स्कोर है। वहीं, पिछले 41 साल में यह दूसरा सबसे छोटा स्कोर (lowest score) भी है।
इन टीम के नाम दर्ज न्यूनतम स्कोर का रिकॉर्ड
इससे पहले रणजी ट्रॉफी 2010-11 में हैदराबाद की टीम (Hyderabad team) राजस्थान के खिलाफ सिर्फ 21 रन के स्कोर पर ऑलआउट हो गई थी। साल 1934-35 के सीजन में साउथ पंजाब की टीम उत्तर भारत के खिलाफ सिर्फ 22 रन पर सिमट गई थी। जम्मू-कश्मीर( Jammu and Kashmir) की टीम 1960-61 में दिल्ली और 1977-78 में हरियाणा के खिलाफ महज 23 रन पर ढेर हो गई थी। आजादी के पहले सिंध की टीम भी साउथ पंजाब के खिलाफ इसी स्कोर (23) पर आउट हुई थी।
सात बल्लेबाजो का खाता भी नहीं खोल सके
नागालैंड टीम (Nagaland team) की इस टीम में बल्लेबाजों ने बेहद खराब प्रदर्शन किया। सात बल्लेबाजों का खाता भी नहीं खोल सके। नागाहो चिशी ने सबसे ज्यादा 10 रन ही बनाए। जोशुआ ओजुकुम (Joshua Ozukum) और इमलीवती लेमटुर ने सात-सात रन बनाए। कप्तान होकितो जिमोमी ने सिर्फ एक रन बनाया। उनके अलावा अन्य बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल सके।
107 रन की बढ़त मिली
आपको बता दें ग्रुप-ए के इस मैच में नागालैंड (Nagaland) को 174 रनों से हार झेलनी पड़ी। उत्तराखंड ने 282 रन बनाए, जिसके बाद नागालैंड ने पहली पारी में 389 रन बनाए। इस तरह उसे पहली पारी के आधार पर 107 रन की बढ़त मिली। उत्तराखंड (Uttarakhand declared) ने 7 विकेट पर 306 रन बनाकर पारी घोषित कर दी, जिससे नागालैंड को जीत के लिए 200 रन का लक्ष्य मिला। दूसरी पारी में नागालैंड टीम (Nagaland team) 25 रन पर ऑलआउट हो गई।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author