January 27, 2023

जॉन अब्राहम जैसी अट्रैक्टिव पर्सनालिटी बनना चाहते हैं तो डाइट से बाहर करें ये चीजें, सेहत के लिए हानिकारक

wp-header-logo-268.png

John Abraham: बॉलीवुड (Bollywood) जगत के सबसे फिट एक्टर्स में से एक जॉन अब्राहम, हमेशा से ही सादा जीवन जीने और हाई थिंकिंग में भरोसा रखते हैं। जॉन की फिटनेस और जबरदस्त मस्कुलर बॉडी की दुनिया दीवानी है। लेकिन, जैसा की हम सभी जानते हैं, कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है। यही कारण है कि एक्टर को अपनी इस अट्रैक्टिव और हॉट बॉडी को मेंटेन रखने के लिए हेल्दी लाइफस्टाइल फॉलो करने की जरूरत होती है। इसलिए अगर आप भी जॉन की तरह जबरदस्त पर्सनालिटी के मालिक बनना चाहते हैं तो अपने लाइफस्टाइल में आज से ही बदलाव करने की जरुरत है। हेल्दी रहने के लिए आप घर का बना खाना खाइये, संतुलित पोषण (balanced nutrition) लीजिये और मिठाइयों से जितना हो सके उतना दूर रहिये।
जॉन ने अपने इंटरव्यू में कही ये बात
जॉन की फिटनेस और डाइट रूटीन से जुड़े सीक्रेट के बारे में हर कोई जानना चाहता है। आज के इस आर्टिकल में हम जॉन के उसी राज से पर्दा उठाएंगे कि आखिर कैसे जॉन इतनी हॉट और अट्रैक्टिव पर्सनालिटी के मालिक हैं। जॉन ने अपने एक इंटरव्यू में खुलासा किया कि भले ही उन्हें मिठाई बहुत पसंद है, लेकिन वह इससे दूर रहते हैं क्योंकि उनका मानना है कि चीनी सेहत के लिए बहुत हानिकारक होती है। यही कारण है कि जॉन ने पिछले 27 सालों से अपनी पसंदीदा मिठाई काजू कतली नहीं खाई है। उन्होंने शिल्पा शेट्टी से बात करते हुए कहा था कि “चीनी का सेवन शराब और धूम्रपान के सेवन से भी ज्यादा हानिकारक होता है।”
चीनी के कारण होने वाले कुछ सामान्य हेल्थ इशूज:-
दिल की समस्याएं
आपकी डाइट में शामिल किसी भी प्रकार की एक्स्ट्रा चीनी आपको हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा और सूजन के कारण कई हृदय रोगों के उच्च जोखिम में डाल सकती है। इसके अलावा आपके आहार में चीनी की ज्यादा मात्रा ब्लड फ्लो के लिए सबसे ज्यादा हानिकारक होती है।
वसायुक्त यकृत रोग (fatty liver disease)
ग्लूकोज और अन्य प्रकार की चीनी की तरह, सुक्रोज भी लिवर द्वारा टूट जाता है। टेबल शुगर के रूप में एक्स्ट्रा चीनी लेने से आपका लीवर ओवरलोड हो सकता है, जिससे गैर-अल्कोहलिक फैटी लीवर रोग हो सकते हैं।
मुंहासे का बनता है कारण
चीनी और मीठे खाद्य पदार्थों में उच्च आहार मुंहासे और अन्य स्किन के मुद्दों के विकास के उच्च जोखिम से जुड़े होते हैं। चीनी में बहुत ज्यादा ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है और कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों की तुलना में आपके ब्लड शुगर को ज्यादा तेज़ी से बढ़ाता है। यह इंसुलिन के स्तर में भी वृद्धि का कारण बनता है, जिससे एण्ड्रोजन स्राव (androgen secretion), तेल उत्पादन (oil production) और सूजन बढ़ जाती है, यह मुंहासों का कारण बनती है।
मधुमेह का बढ़ाता है खतरा
कम जीवन प्रत्याशा के प्रमुख कारणों में से एक रक्त शर्करा के स्तर (Blood Sugar Level) में वृद्धि के कारण टाइप 2 मधुमेह (Diabetes) का प्रसार होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, ज्यादा चीनी का सेवन वजन बढ़ने और शरीर में वसा बढ़ने के साथ-साथ मधुमेह के बढ़ते जोखिम से जुड़ा हुआ है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author