January 31, 2023

राजस्थान चुनावों को लेकर दिल्ली में सुगबुगाहट तेज, वसुंधरा को मिल सकती है कमान

wp-header-logo-261.png

जयपुर। नई दिल्ली स्थित भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक का आयोजन किया गया। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए है। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित रहे। इस बैठक में आने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर रणनीति तैयार की गई है। शीर्ष नेतृत्व एक बार फिर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे जैसी जनआधार वाली नेता को ही चेहरा बना सकती है। माना जा रहा है कि राजे को लेकर इस वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाया जा सकती है।
वसुंधरा राजे ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया शुभारंभ
राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक के पहले दिन राजस्थान के नेता छाए रहे। प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने प्रदेश में पार्टी की गतिविधियों को लेकर प्रेज़ेंटेशन दिया, तो वहीं राष्ट्रीय सचिव के तौर पर डॉ अल्का गुर्जर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया। इधर, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने बतौर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक के उदघाटन सत्र का दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया।
विभिन्न संगठनात्मक विषयों पर हुई चर्चा
बीजेपी की नई दिल्ली में शुरू हुई राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रदेश की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, वरिष्ठ नेता ओम प्रकाश माथुर, राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ सहित कई दिग्गज शामिल हुए। समस्त पदाधिकारियों के साथ बैठक में हिस्सा लेकर विभिन्न संगठनात्मक विषयों पर चर्चा की।
राजे को जल्द मिलेगी प्रदेश की कमान
राजस्थान में विधानभा चुनाव में अब कुछ महीने ही शेष बचे है। सूबे में दिन प्रतिदिन सियासी पारा ऊपर नीचा हो रहा है। माना जा रहा है कि राजस्थान में एक बार फिर वसुंधरा राजे को कमान देने की तैयारी की जा रही है। जल्दी ही वसुंधरा राजे राजस्थान में भाजपा को लीड करते हुए नजर आएगी। आलाकमान जल्द से जल्द राजस्थान भाजपा की कमान पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के हाथों में सौंप सकती है। क्योंकि वे ही एकमात्र सर्वमान्य नेता है, जिनके नेतृत्व में भाजपा वर्ष 2013 के चुनाव परिणाम से भी अधिक प्रचंड बहुमत वाली गुजरात जैसी जीत दिला सकती है। राजे सरकार की कार्यकाल की जनकल्याणकारी योजनाएं व विकास कार्य के चलते प्रदेश की जनता राजे को ऐतिहासिक जीत देने के लिए तत्पर है। कांग्रेस शासन में आमजन व्यथित है।
राजे की मौजूदगी रही ख़ास
राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में पूर्व सीएम व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे की मौजूदगी भी चर्चा का विषय रही। प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया की अध्यक्षता में बीते दिनों हुई कोर कमेटी बैठक से राजे शामिल हुई थीं। इसके लिए उन्होंने स्वास्थ्य नासाज होने का हवाला दिया था। उसके बाद अब राष्ट्रीय कार्यकारिणी में उपस्थिति के कारण वे चर्चा में हैं। राजे ने बतौर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक के उदघाटन सत्र का दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया। राजे इससे पहले भी कई दफा भाजपा की प्रदेश स्तरीय बैठकों में गैरमौजूद रही हैं, जबकि राष्ट्रीय स्तर की बैठकों में उन्होंने मौजूदगी दिखाई है।
ये दिग्गज नेता बैठक में हुए शामिल
बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, वरिष्ठ नेता ओम प्रकाश माथुर, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, राष्ट्रीय सचिव डॉ अल्का गुर्जर और राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ शामिल हैं।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author