August 14, 2022

अग्निपथ का विरोध, सीकर-जोधपुर में हंगामा, कलेक्ट्रेट को घेरा, तोड़फोड़, 20 जून को दिल्ली कूच की चेतावनी

wp-header-logo-184.png

news website
जोधपुर/सीकर. केंद्र सरकार की ‘अग्निपथ’ योजना का प्रदेशभर में विरोध शुरू हो गया। सेना भर्ती का इंतजार कर रहे युवाओं को यह शॉर्ट टर्म योजना रास नहीं आ रही है। जोधपुर में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) के युवा गुरुवार को सड़क पर उतर आए। वहीं सीकर में युवकों ने तोड़फोड़ की। अन्य जिलों से भी युवाओं के विरोध-प्रदर्शन की खबर आ रही है।
सेना में भर्ती की अग्निपथ योजना के विरोध में जोधपुर में बगैर किसी पूर्व सूचना के बड़ी संख्या में युवक रातानाड़ा से रवाना होकर नई सड़क चौराहे पर पहुंचे। वहां से सभी कलेक्ट्रेट तक नारेबाजी करते हुए पहुंचे। अब कलेक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। कलेक्ट्रेट परिसर पूरी तरह से पुलिस छावनी बन चुका है।
युवक-पुलिस आमने-सामने डटे
जोधपुर में विरोध की सुगबुगाहट तो थी, लेकिन बड़ी संख्या में युवक एकाएक सड़क पर उतर पड़ेंगे इसका अनुमान पुलिस को भी नहीं था। सुबह सूचना मिली कि कुछ युवक रातानाड़ा में एकत्र हो रहे हैं। थोड़ी देर में करीब दो सौ युवक नारेबाजी करते हुए नई सड़क की तरफ बढ़े। यहां से जुलूस के रूप में युवक नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। फिलहाल युवक व पुलिस आमने-सामने डटे हैं और नारेबाजी का दौर जारी है। युवाओं ने बताया- केन्द्र की इस योजना से हमारे साथ धोखा हुआ है। अब सेना में ठेका कर्मियों के समान चार साल की नौकरी मिलेगी। दूसरी तरफ तीन साल से सेना भर्ती बंद होने के बावजूद युवा रोजाना भर्ती रैली की तैयारी में जुटे थे। ऐसे में केंद्र सरकार को इस योजना को बंद कर पहले की तरह भर्ती प्रक्रिया को शुरू करना चाहिए।
अजमेर में विरोध प्रदर्शन
राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी अजमेर इकाई के नेतृत्व में गुरुवार को रैली निकालकर कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान प्रदर्शन में सेना भर्ती के अभ्यर्थी भी मौजूद रहे। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने जिला कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन देकर रक्षा मंत्री द्वारा TOD (ट्यूर ऑफ ड्यूटी) लागू करने के निर्णय का क्रियान्वयन नहीं करने तथा सेना भर्ती रैलियों का आयोजन दो वर्ष की आयु में शिथिलता देते हुए पूर्व की भांति प्रारंभ करने की मांग रखी गई। इस दौरान जिला कलेक्ट्रेट पर पुलिस का भारी जाब्ता भी मौजूद रहा।

सीकर में भी प्रदर्शन
सीकर में भी योजना का विरोध करने के लिए आरएलपी की ओर से बड़ी संख्या में युवाओं ने रैली निकाली। रैली के दौरान युवाओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। युवाओं ने आरोप लगाया कि योजना को लांच कर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। यह बर्दाश्त नहीं करेंगे। रैली में युवाओं ने हाथों में डंडे ले रखे थे।
योजना लॉन्च होते ही बिहार में इसका विरोध किया गया। सीकर में डाक बंगला से कलेक्ट्रेट तक आक्रोश रैली निकाली गई। जमकर नारेबाजी की। कलेक्ट्रेट परिसर के सामने डिवाइडर पर लगे बैनर युवाओं ने तोड़ दिए। कोबरा टीम को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा। सीकर में करीब 60 हजार युवा सेना भर्ती की तैयारी कर रहे हैं। करीब 12 हजार युवा ओवरएज हो चुके हैं। युवा आयु सीमा में छूट की मांग कर रहे हैं। 2020 तक हर साल सीकर से तीनों सेनाओं में करीब 2000 युवा नौकरी लगते थे। दो साल से यह आंकड़ा शून्य है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के जिला अध्यक्ष महेंद्र डोरवाल ने कहा 2 साल बाद भर्ती निकाली, वह भी सिर्फ 4 साल की, यह अन्याय है। 20 जून को दिल्ली कूच कर जंतर-मंतर पर आंदोलन करेंगे।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author