June 26, 2022

Health Tips: कहीं आप भी तो नहीं Mobile Addiction का शिकार, ऐसे लगाएं पता

wp-header-logo-329.png

Health Tips: आजकल लगभग हर उम्र के लोग मोबाइल फोन (Mobile Phone) का यूज करते हैं। इसमें कोई दो राय नहीं कि यह हमारे लिए बहुत यूजफुल है। लेकिन कुछ लोग हर समय इसे अपने साथ ही रखना चाहते हैं या कहें, इसके एडिक्ट हो जाते हैं। यह कंडीशन ठीक नहीं क्योंकि इससे हमारी रूटीन लाइफ (Routine Life) प्रभावित होती है, इस पर नेगेटिव इफेक्ट (Negative Effect) पड़ता है। आपके साथ ऐसा ना हो, इसके लिए खुद को परखना होगा कि कहीं आप भी मोबाइल एडिक्शन (Mobile Addiction) का शिकार तो नहीं हैं। इसके लिए आपको यहां दिए जा रहे सवालों का ईमानदारी से जवाब देना होगा।
1. दिन में जब भी आपके पास खाली समय होता है, तो आप-
क. अपनी किसी हॉबी को टाइम देती हैं।
ख. मोबाइल स्क्रॉल करने लगती हैं।
ग. कुछ भी करती हैं, लेकिन ध्यान मोबाइल पर ही रहता है।
2. आप रोज सोने से पहले देर रात तक फोन देखती हैं-
क. हां, ऐसा ही होता है।
ख. नहीं, ऐसा कभी नहीं होता।
ग. कभी-कभी ऐसा होता है।
3. आप सुबह जगने के बाद –
क. रूटीन वर्क करती हैं, लेकिन बीच-बीच में मोबाइल भी चेक करती हैं।
ख. मोबाइल अपडेट्स चेक करती हैं।
ग. अपने रूटीन वर्क में बिजी हो जाती हैं।
4. क्या लंच या डिनर करते वक्त भी आपके हाथ में मोबाइल होता है-
क. कभी नहीं।
ख. कभी-कभी।
ग. हां।
5. ऑफिस वर्क करते हुए आपका ध्यान-
क. कंप्यूटर स्क्रीन पर कम और फोन पर ज्यादा रहता है।
ख. पूरी तरह अपने काम पर होता है।
ग. ऑफिस वर्क के दौरान जब ब्रेक लेती हैं, तब फोन देखती हैं।
अंक तालिका
क्रम- क ख ग
1. 5 0 2
2. 0 5 2
3. 2 0 5
4. 5 2 0
5. 0 5 2
निष्कर्ष
अगर आपने यहां दिए गए सभी सवालों के जवाब ईमानदारी से दिए हैं तो जानने के लिए तैयार हो जाइए कि आप मोबाइल एडिक्टेड हैं या नहीं।
क. अगर आपके प्राप्तांक 0-10 के बीच हैं, तो समझ लीजिए कि आप मोबाइल एडिक्टेड हैं। इसका आपकी रूटीन लाइफ पर बहुत गहरा असर पड़ रहा है। इससे पहले कि आप किसी गंभीर मुसीबत में फंसें, इस लत को सुधार लीजिए।
ख. अगर आपके प्राप्तांक 10-20 के बीच हैं, तो आपको मोबाइल की लत भले ना हो, लेकिन आप उसी ओर बढ़ रही हैं। इससे पहले कि आपको मोबाइल एडिक्शन हो जाए, खुद को संभाल लीजिए।
ग. अगर आपके प्राप्तांक 20 या इससे अधिक हैं तो कहने की जरूरत नहीं कि आप अब तक मोबाइल एडिक्शन से बची हुई हैं और ना ही इस ओर आपके कदम बढ़ रहे हैं। यह अच्छी बात है, अपनी इस आदत को बरकरार रखिए।
लेखक- पिंकी प्रधान (Pinki Pradhan)
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source