January 30, 2023

खेल कोटा की कटौती पर खिलाड़ियों ने भरी हुंकार, सभी विभागों में कोटा बहाली की मांग

wp-header-logo-239.png

पपीहा पार्क में खेल कोटा बहाल करने की मांग लेकर एकत्रित हुए खिलाड़ी व खेल संगठन पदाधिकारी।
हरिभूमि न्यूज. फतेहाबाद: प्रदेश सरकार द्वारा खेल कोटे को तीन विभागों तक समेटने के निर्णय के खिलाफ जिलेभर के खिलाड़ी व खेल संगठनों के पदाधिकारी पपीहा पार्क में एकत्रित हुए। खेल कोटा बचाओ प्रदेश कमेटी के जिला प्रभारी प्रदीप पोटलिया के नेतृत्व में खिलाड़ियों ने सरकार के खिलाफ हुंकार भरते हुए चंडीगढ़ में चल रहे प्रदेश स्तरीय धरने में भागीदारी का निर्णय भी लिया। जिला भर से आए खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए प्रदीप पोटलिया ने कहा कि आज खिलाड़ी अपना घर अपना परिवार अपनी मेहनत, अपना भविष्य सब कुछ छोड़कर धरना स्थल पर बैठे हैं। इसके लिए सीधे तौर पर प्रदेश सरकार की गलत खेल नीति है।
सरकार अपने ऐसे गलत रवैये के कारण खिलाड़ियों को रोजगार से दूर कर रही है। सरकार ने 3 प्रतिशत खेल कोटे को सिर्फ 4 विभागों तक समेट दिया है जबकि इससे पहले इस कोटे का लाभ खिलाड़ियों को सभी विभागों में मिलता था। एक तरफ केंद्र सरकार और भारतीय रेलवे खिलाड़ियों को बिना परीक्षा के भी रोजगार दे रही हैं, वहीं हरियाणा में पात्रता परीक्षा पूर्ण करने के उपरांत आने वाली भर्तियों से पहले ही सरकार ने खिलाड़ियों का भविष्य दांव पर लगाकर उन्हें धरने पर बैठने को मजबूर कर दिया है। सरकार ने खेल कोटे को 453 विभागों से मात्र 3 विभाग में समेट कर प्रदेश भर के खिलाड़ियों का भविष्य अंधकारमय बना दिया है।
जिला फतेहाबाद के सैकड़ों खिलाड़ी चंडीगढ़ में चल रहे राज्य स्तरीय धरने पर पहुंच कर खेल कोटा पुरानी नीति से बहाल करने की मांग को मजबूती देंगे। इस अवसर पर प्रदीप पोटलिया, हरदीप सिंह, प्रदीप सुथार, सुनील फुलां, अजीत किरढान, नरेन्द्र शेखुपुर, मुकेश भदरेचा सहित अनेक युवा व संगठन पदाधिकारी उपस्थित रहे।
© Copyrights 2023. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author