February 6, 2023

Acid Attack: एसिड हमले के विक्टिम की कैसे करें सहायता, जानिए पूरा First Aid Guide

wp-header-logo-240.png

Acid Attack First Aid Guide: दिल्ली के द्वारका में 17 वर्षीय लड़की के चेहरे पर दो बाइक सवारों ने तेजाब फेंक दिया, जिससे लड़की गंभीर रूप से झुलसी गई। इस घटना के समय लड़की अपनी छोटी बहन के साथ थी। पीड़िता के पिता के अनुसार, वह गंभीर रूप से जली हुई थी, जिससे उसकी आंखों पर भी असर पड़ा था। भारत में हर ऐसे बहुत से हादसे होते हैं, जिनमें लोग एसिड से जल जाते हैं। वहीं बात अगर महिलाओं की करें तो उनके खिलाफ एसिड अटैक जैसे भीषण अपराधों को अंजाम दिया जाता रहा है। बता दें कि स्ट्रांग केमिकल पीड़ित की फिजिकल और मेंटल हेल्थ पर बहुत ही गंभीर प्रभाव छोड़ता है।
ऐसे हालातों में जिस इंसान पर हमला किया गया है, उसे सही तरह से प्राथमिक उपचार (First Aid) देकर एसिड के असर को कम करने की कोशिश है। अगर दुर्भाग्य से आप किसी एसिड हमले के शिकार हैं या किसी और पर हमले को होते हुए देखा है, तो इस सिचुएशन में आप किसी भी इंसान की सबसे अच्छी मदद कर सकते हैं। आपको पीड़ित की आंखों, स्किन और आसपास के टिशूज को होने वाले नुकसान को कम से कम करने की कोशिश करनी चाहिए। आज के इस आर्टिकल में हम आपको इसी से जुड़ी कुछ अहम बातें बताएंगे।
दस्ताने के बिना पीड़ित को ना लगाएं हाथ
सैनिटरी ग्लव्स पहनने के बाद ही पीड़ित को पकड़ने की कोशिश करें। यह न केवल आपको केमिकल से घायल होने और जलने से बचाता है बल्कि पीड़ित को किसी भी तरह के संक्रमण से भी बचाएगा। एसिड हमले के बाद, स्किन कमजोर हो जाती है और किसी भी अस्वच्छ संपर्क से संक्रमण या सेप्टिक हो सकता है और पीड़ित के लिए समस्याएं बढ़ सकती है।
जले हुए स्थान पर साफ पानी का प्रयोग करें
विशेषज्ञों के मुताबिक सबसे प्रभावी कार्रवाई यह है कि रसायन को फैलाने और जलने को रोकने के लिए उस स्थान को पानी से अच्छी तरफ साफ करने की कोशिश करें। इस काम के लिए बोतलबंद या साफ पानी का इस्तेमाल करें। विशेषज्ञों का कहना है कि प्रभावित क्षेत्र में कम से कम 20 मिनट तक पानी डालें, साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि पीड़ित के नीचे एसिड वाला पानी इकठ्ठा न हो पाए।
किसी भी केमिकल का इस्तेमाल ना करें
आपको इस बात का ध्यान का रखना है कि आप या आपके आस-पास कोई भी कोई भी पीड़ित पर केमिकल या मरहम ना लगाएं। यहां तक ​​कि विशेष रूप से जले हुए घावों पर तो बिल्कुल नहीं, इससे संक्रमण और एलर्जी जैसे बुरे असर का खतरा बना रहता है, जो पीड़ित की चोटों को बदतर बना सकता है।
जितनी जल्दी हो सके मेडिकल हेल्प लें
इस तरह की सिचुएशन में प्राथमिक चिकित्सा यानी फर्स्ट ऐड बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि आप पीड़ित को अस्पताल ले जाएं या जल्द ही उन्हें किसी अच्छे डॉक्टर के पास ले जाएं। एसिड के कारण जले हुए घाव को तत्काल चिकित्सा के बिना ठीक नहीं किया जा सकता है और इसका और कोई विकल्प नहीं है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author