July 5, 2022

मंत्री रमेश मीणा का विवादित बयान, किरोड़ीलाल मीणा अपराधी हैं, जल्द होंगे गिरफ्तार

wp-header-logo-282.png

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ग्रामीण विकास एंव पंचायतीराज मंत्री रमेश मीणा इन अपने विवादित बयान को लेकर सुर्खियों में छाए हुए है। मंत्री रमेश मीणा ने ने भाजपा सांसद किरोड़ीलाल मीणा के खिलाफ विवादित बयान दिया है।। उन्होंने कहा कि किरोड़ीलाल मीणा खुद अपराधी हैं, वह किस कानूनी लड़ाई की बात करते हैं वह खुद कानून की नजर में अपराधी है। उनके खिलाफ प्रदेश में पांच मुकदमे दर्ज हैं। सीआईडी किरोड़ीलाल को अपराधी घोषित कर चुकी है। मीणा को तो पुलिस के सामने खुद ही सरेंडर कर देना चाहिए। किरोड़ीलाल के बारे में कई बार जांच में यह प्रमाणित हुआ कि वह अपराधी हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश में अगली बार फिर से कांग्रेस की सरकार बनेगी। प्रदेश की जनता सरकार के कामों और योजनाओं से खुश है।
माहौल खराब कर सकती है बीजेपी
भरतपुर में मीडिया से बातचीत करते हुए पंचायतीराज मंत्री रमेश मीणा ने बताया कि पुलिस को किरोड़ीलाल मीणा को गिरफ्तार करने के लिए कहा गया है, लेकिन इन्हें गिरफ्तार करने से भाजपा प्रदेश में और माहौल खराब करेगी। भाजपा तो चाह रही है कि प्रदेश में अशांति फैले, दंगे हो और हमें राजनीति करने का अवसर मिले, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं होने देंगे। राजस्थान सबसे शांत प्रदेश है, यहां सभी लोग मिलजुल कर रहते हैं, फिर भी कुछ लोग माहौल खराब करने की कोशिश करते हैं।
किरोड़ीलाल का सूर्य अस्त
मंत्री रमेश मीणा ने कहा कि वह किरोड़ी लाल के बारे में ज्यादा बात नहीं करना चाहते हैं। क्योंकि किरोड़ीलाल का सूर्य अस्त हो चुका है। राजनीति खत्म हो चुकी है, अब वे थाने, तहसील के सामने धरना देते रहते हैं। बाकि कुछ नहीं। कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा के डीजीपी पर निशाना साधने पर मंत्री रमेश मीणा ने कहा कि लोकतंत्र में बोलने का अधिकार सभी को है। किसी के बोलने से कुछ नहीं होता है। सरकार अपना काम कर रही है। पुलिस अपना काम कर रही है। विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने सरेंडर कर कानून का सम्मान किया है।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source