December 6, 2022

Bad Posture Issues: वर्क फ्रॉम होम के चलते 62 हजार लोगों को गंवानी पड़ी नौकरियां, जानिए वजह

wp-header-logo-270.png

Bad Sitting Posture Side Effects: कोरोना महामारी के कारण महज एक देश नहीं बल्कि पूरा विश्व लॉकडाउन की चपेट में आ गया था, लेकिन कोविड के मामलों में आई कमी के देखते हुए धीरे-धीरे सभी देशों ने लॉकडाउन की पाबंदियों को हटा दिया। यही कारण है कि लोगों की जिंदगियां और देशों की बिगड़ी अर्थव्यवस्था पटरी पर आने लगी। हालांकि वर्क फ्रॉम होम ने महामारी के दौरान भी लोगों को जीविका चलाने का मौका दिया, लेकिन इसी व्यवस्था ने कई लोगों को सेहत संबंधित परेशानियों में भी डाल दिया। जानकर हैरानी होगी कि अकेले ब्रिटेन में 62 हजार लोगों ने गर्दन और कमर दर्द के चलते अपनी नौकरियों को छोड़ दिया है। नौकरी छोड़ने वालों में ज्यादातर लोग वो हैं, जिन्होंने वर्क फ्रॉम होम में घर पर बैठकर काम करते हुए अपने बैठने के तरीके की बिल्कुल परवाह नहीं की।
गर्दन और कमर में दर्द के कारण छोड़नी पड़ी नौकरियां
ब्रिटेन के ऑफिस फॉर नेशनल स्टेटिस्टिक्स की एक रिपोर्ट की मानें तो साल 2019 में बीमारी के कारण काम ना कर पाने वालों की संख्या 20 लाख थी, वहीं 3 साल बाद यानी 2022 में यह संख्या बढ़कर 25 लाख हो गई है। इनमें से 62 हजार वो लोग हैं, जिन्होंने गर्दन और कमर दर्द के कारण नौकरी को छोड़ा है। यूके में मानसिक बीमारियों के बाद नौकरी छोड़ने की यह सबसे बड़ी वजह है। वहीं इस मामले में लंदन के विशेषज्ञों का मानना है कि 25 से 45 साल के बीच के लोगों में दर्द की यह समस्या सबसे ज्यादा देखने को मिल रही है। घंटों तक लैपटॉप या कंप्यूटर पर झुककर देखते रहने के कारण लोग इस असहनीय दर्द के शिकार हो गए हैं कि अब वह बैठकर काम करने की स्थिति में ही नहीं है।
गलत पोस्चर के चलते कामकाजी युवा हर दर्द के शिकार
लोगों का कहना है कि ऑफिस में 9 से 5 काम करने के लिए अलग तरह का डिजाइन होता है, जिस कारण काम करने में किसी तरह की परेशानी नहीं होती है। इसके साथ ही बॉडी को जरुरी सपोर्ट भी मिलता रहता है, लेकिन वहीं घर के सोफे या बिस्तर पर बैठकर इतनी देर काम करने से इंसान को दर्द शुरू हो जाता है। यहां डराने वाली बात यह है कि अगर इस दर्द का ठीक से और समय रहते इलाज ना किया जाए तो यह दर्द स्थायी भी हो सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक लॉकडाउन में घर से काम करने का चलन बढ़ा है, लेकिन इसके लिए कोई अच्छी व्यवस्था नहीं है। लोगों की लापरवाही और बैठने के सही पोस्चर पर ध्यान ना देने के कारण लंबे समय तक शरीर पर दबाव पड़ा। इससे धीरे-धीरे गर्दन और कमर का दर्द होना शुरू हो जाता है। इस समस्या की चपेट में सबसे ज्यादा कामकाजी युवा आए हैं, जो वर्क फ्रॉम होम के समय में घर पर गलत तरीके से बैठकर काम करते रहे हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author