August 15, 2022

स्किन पर दिखते इन वार्निंग साइन को ना करें नजरअंदाज, हो सकते हैं High Cholesterol के शिकार

wp-header-logo-251.png

हाई कोलेस्ट्रॉल के वार्निंग साइन को ना करें नजरअंदाज

अगर हाई कोलेस्ट्रॉल (High Cholesterol) को जल्द ही पहचान कर अच्छी तरह से इसका इलाज ना किया जाए तो यह बहुत ही घातक बिमारी है। इसके परिणामस्वरूप व्यक्ति की अचानक से ही मृत्यु भी हो सकती है। अक्सर हाई कोलेस्ट्रॉल हमारी धमनियों को ब्लॉक कर देता है। जिस कारण हृदय में ब्लड फ्लो (Blood Flow) कम हो जाता है और कार्डियक अरेस्ट (Cardiac Arrest) होने के चांसेस ज्यादा बढ़ जाते हैं। हाई कोलेस्ट्रॉल के बहुत से कारण होते हैं, जैसे की बहुत अधिक वसायुक्त भोजन करना, व्यायाम न करना, शराब पीना या धूम्रपान करना आदि।
जानिए क्या है हाई कोलेस्ट्रॉल के लक्षण
बता दें कि हाई ब्लडप्रेसर और डायबिटीज जैसी बीमारियों से ग्रस्त लोगों में हाई कोलेस्ट्रॉल होने का खतरा बाकी लोगों के मुकाबले कई अधिक होता है। आज इस खबर में आप जानेंगे की हाई कोलेस्ट्रॉल के ऐसे कौन से लक्षण हैं जिन्हें आपको बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना है।
स्किन पर नीला या बैंगनी जाल जैसी आकृति का दिखना
स्किन पर यह जाल जैसा पैटर्न आपकी धमनियां ब्लॉक होने का संकेत हो सकता है, जो कोलेस्ट्रॉल एम्बोलिजेशन सिंड्रोम का भी एक लक्षण है। अगर स्किन पर ये चेंज दिखे तो समझ जाएं कि आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ गया है।
सोरायसिस (psoriasis)
स्टडी के मुताबिक हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल और सोरायसिस संबंधित हैं, मेडिकल टर्म में इसे हाइपरलिपिडिमिया के नाम से जाना जाता है। सोराइसिस के सामान्य लक्षणों में शरीर के प्रभावित सामान्य अंगों में खुजली होती है, त्वचा पर पपड़ी जैसी ऊपरी परत जम जाती है। शरीर में लाल धब्बे और चकत्ते हो जाते हैं, सोराइसिस का कोई भी पूरा इलाज नहीं है, लेकिन इसे काफी हद तक कंट्रोल किया या जा सकता है।
पैरों में छाले जो जल्दी ठीक नहीं होते
ये अल्सर हाई कोलेस्ट्रॉल वाले व्यक्तियों में हो सकते हैं, ऐसा इसलिए होता है क्योंकि घावों को ठीक होने के लिए पर्याप्त मात्रा में ब्लड नहीं मिलता है।
जैंथिलास्मा (Xanthelasma)
आंखों के कोने के आसपास पीले नारंगी मोमी विकास। यह त्वचा के नीचे कोलेस्ट्रॉल जमा होने के कारण होता है। इसी तरह एक जैंथोमा बिमारी भी होती है, फर्क बस इतना है कि यह वृद्धि निचले पैर और हथेलियों के पीछे हो सकती है। अगर आप अपने कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित कर लेते हैं तो इन पैच से छुटकारा पाने में आपको मदद मिलेगी।
स्किन के रंग में बदलाव और ड्राईनेस
हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल आपकी त्वचा के नीचे ब्लड फ्लो को कम कर सकता है, जिसके कारण त्वचा का रंग बदल जाता है क्योंकि स्किन की कोशिकाओं को पर्याप्त पोषक तत्व नहीं मिलते हैं। पैर जो उठे हुए हैं या लंबे समय से खड़े हैं, वे बैंगनी या पीले हो सकते हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author