October 4, 2022

Ranji Trophy: रणजी ट्रॉफी में रचा इतिहास, टीम ने बनाए 203 ओवर में 880 रन

wp-header-logo-265.png

खेल। कोरोना महामारी के दौरान शुरू होने वाली रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) में एक टीम ने इतिहास रचा दिया है। कोलकाता में झारखंड और नगालैंड (Jharkhand Vs Nagaland) के बीच प्री-क्वार्टरफाइनल मुकाबला खेला जा रहा है। जिसमें झारखंड ने पहले शानदार बल्लेबाजी करते हुए 880 रनों का बड़ा स्कोर बनाया है। रणजी ट्रॉफी के इतिहास यह स्कोर अब तक का चौथा सबसे बड़ा स्कोर है।

ऐसा रही बल्लेबाजी
The batting blitz continues! ???? ????

2⃣5⃣0⃣ up for Kumar Kushagra. ???? ????

Jharkhand move closer to the 650-run mark against Nagaland.

Follow the match ▶️ https://t.co/Ng12bRPPu5#RanjiTrophy | #PQF | #JHAvNAG | @Paytm pic.twitter.com/iK52BVLlzr
इस पारी में झारखंड (Jharkhand) की ओर से 3 शतक लगाए गए, जिसमें एक दोहरा शतक भी है। झारखंड ने 203.4 ओवर तक बल्लेबाजी करते हुए 10 विकेट के नुकसान पर 880 रन जड़े। झारखंड की ओर से कुमार कुशाग्र (Kumar Kushagra) ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा 266 रनों जड़े। जिसमे 37 चौके और 2 छक्के शामिल हैं। वहीं शहबाज़ नदीम (Shahbaz Nadeem) ने भी अच्छी बल्लेबाजी करते हुए 304 गेंदों में 177 रनों की पारी खेली जिसमे उनके बल्ले से 22 चौके समेत 2 छक्के निकले। झारखंड की ओर से बड़ी शानदार बल्लेबाजी करते हुए तीसरा शतक विराट सिंह के बल्ले से निकला। जिन्होंने 155 गेंदों 107 रन जड़े। जिसमे 13 चौके भी शामिल हैं। यह झारखंड का भी रणजी का सबसे बड़ा स्कोर है, बता दें कि, झारखंड साल 2004-05 से ही इस बड़े टूर्नामेंट में बतौर टीम हिस्सा ले रही है। इससे पहले साल 2015 में झारखंड ने हैदराबाद के खिलाफ 556 रन जड़े थे।

रणजी के सबसे बड़े स्कोर

944/6 हैदराबाद बनाम आंध्र प्रदेश साल 1994 में
912/8 होल्कर बनाम मैसूर साल 1946 में
912/6 तमिलनाडु बनाम गोवा साल 1989 में
880 झारखंड बनाम नगालैंड साल 2022 में
855/6 मुंबई बनाम हैदराबाद साल 1991 में
Sub Editor
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author