May 27, 2022

Health Tips: पपीते का सेवन पहुंचा सकता है आपको नुकसान, यहां जानिए कैसे

wp-header-logo-247.png

Health Tips: पपीता (Papaya) खाना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व हमारे शरीर को कई तरह से फायदा पहुंचाते हैं। कम कैलोरी वाले इस फल के कई स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits) हैं। एक्सपर्ट्स के मुताबिक यह एंटी- बैक्टीरियल (Anti-bacterial) गुणों के लिए जाना जाता है और अच्छे पाचन को बढ़ावा देता है। इसके पौधे का हर हिस्सा अपने आप में एक औषधी है। यह बीटा-कैरोटीन (Beta Carotene) जैसे एंटीऑक्सीडेंट कैरोटीनॉयड (Antioxidant Carotenoids) का एक अच्छा स्रोत है जो आंखों की रोशनी की रक्षा करने में मदद करता है। इसके अलावा, पपीते के पत्ते डेंगू बुखार में ब्लड प्लेटलेट काउंट्स (Blood Platelet Counts) को बढ़ानें के लिए जाने जाते हैं। इस फल में फाइबर काफी ज्यादा मात्रा में पाया जाता है, जिससे ये कब्ज जैसी पेट संबंधी बीमारियों को हमसे दूर रखता है। जहां इस फल के कई लाभ हैं, वहीं पपीते का ज्यादा सेवन हमारे स्वास्थ्य (Papaya Side Effects) के लिए हानिकारक भी हो सकता है। यहां पढ़िए इससे होनें वाले नुकसान के बारे में…
प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए हो सकता है हानिकारक
ज्यादातर हेल्थ एक्सपर्ट प्रेग्नेंट महिलाओं को पपीता खाने से बचने की सलाह देते हैं क्योंकि पपीते के बीज, जड़ और पत्तियों का अर्क भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकता है। एक कच्चे पपीते के फल में लेटेक्स की हाई कंसंट्रेशन होती है जो गर्भाशय के कॉन्ट्रैक्शन का कारण बन सकती है। पपीते में मौजूद पपैन घटक शरीर की कुछ मेम्ब्रेन्स को नुकसान पहुंचा सकता है जो भ्रूण के विकास के लिए आवश्यक हैं।
पाचन संबंधी समस्याएं
पपीते में फाइबर की मात्रा अधिक होती है; जबकि यह कब्ज वाले लोगों के लिए बहुत अच्छा हो सकता है, वहीं इसके अत्यधिक सेवन से पेट खराब हो सकता है। इसके अलावा, फल की त्वचा में लेटेक्स होता है जो पेट में जलन के साथ-साथ दर्द और दिक्कते पैदा कर सकता है। पपीते में मौजूद फाइबर से आपको कई बार डायरिया होनें का खतरा हो सकता है, जिससे आपके शरीर में पानी की कमी हो सकती है।
दवाओं के साथ नहीं बैठता फिट
यूं तो पपीते का सेवन आपके लिए काफी लाभदायक है लेकिन कई बार दवाओं के साथ इसे खाने से नुकसान भी हो सकता है। एक्सपर्ट्स कहते हैं, पपीता खून को पतला करने वाली दवाओं के साथ परस्पर क्रिया कर सकता है, जिससे आसानी से रक्तस्राव और चोट लग सकती है।
ब्लड शुगर लेवल को करता है कम
फर्मेंटेड पपीता ब्लड शुगर लेवल को कम कर सकता है, जो डायबिटीज के मरीजों के लिए खतरनाक हो सकता है। इसलिए डायबिटीज के मरीज इसका सेवन करने से पहले एक बार हेल्थ एक्सपर्ट की सलाह अवश्य लें।
हो सकती हैं एलर्जी
फल में पपैन या इसके फूल से पॉलेन एलर्जी का कारण बन सकता है। जिन व्यक्तियों को पपीते से एलर्जी होती हैं उनमें सूजन, चक्कर आना, सिरदर्द, चकत्ते और खुजली जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।
सांस संबंधी बीमारी
पपीते में मौजूद एंजाइम पपैन को एक संभावित एलर्जेन कहा जाता है। इसके अत्यधिक सेवन से अस्थमा, कंजेशन और घरघराहट जैसे सांस संबंधी बीमारियां हो सकती हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source